गाय के बाद अब भैंस के नाम पर मुसलमानों के साथ बुरी तरह मारपीट

0
Want create site? With Free visual composer you can do it easy.

बल्लभगढ़। हरियाणा के फ़रीदाबाद ज़िले के बल्लभगढ़ इलाके के मुजेरी गांव में रोहिंग्या मुसलमानों पर बकरीद के दिन हमला किया गया. ये हमला बकरीद पर भैंसे को काटने को लेकर हुए विवाद के चलते हुआ. बकीद की सुबह करीब 20 लोगों ने उन पर हमला बोल दिया. उनके साथ जमकर मारा पिटाई की गई. जिसके बाद उनकी भैंसों को लेकर भी चले गए. रोहिंग्या के यह मुसलमान पिछले 2 सालों से फरीदाबाद के मुंजेड़ी गांव में बतौर रिफ्यूजी की हैसियत से रह रहे हैं. करीब 45 रोहिंग्या मुस्लिम परिवार यहां रहते हैं.


यहां रहने वाले एक रोहिंग्या मुस्लिम ने बताया, ”पहले तो स्थानीय लोगों ने हमारे बंधे हुए जानवरों को ले जाने की कोशिश की. जब हमने इंकार किया तो वो बोले कि ये बछड़े हमें बेच दो. हमने ये कहकर मना किया कि हमने इन्हें ईद पर कुर्बानी के लिए खरीदा है.” वो आगे बताते हैं, ”हमने विवाद न बढ़े इसलिए कहा कि हम शनिवार को इन्हें जाकर बाजार में बेच देंगे, लेकिन तभी वो शनिवार तड़के 15-20 के झुंड में आए और हमारे साथ मारपीट की. उन्होंने हमारे कटरों को छोड़ दिया और जिसने ऐसा करने से उन्हें रोका, उसके साथ मारपीट की. महिलाओं के कपड़े तक फाड़े.”
एक और रोहिंग्या मुस्लिम मोहम्मद जमील कहते हैं, ‘उन्होंने हमारे परिवार की महिलाओं तक को बुरी तरह पीटा.


बहरहाल अबतक देश में मुसलमानों को गाय के नाम पर मारा जा रहा था अब भैंस के नाम पर भी मारा जा रहा है. मई 2014 में मोदी के सत्ता में आने के बाद से गाय के नाम पर मुसलमानों को मारने का खेल शुरू हुआ. दादरी के मोहम्मद अखहलक से लातहार में मजलूम अंसारी और इम्तियाज खान से लेकर अलवर में पहलू खान और हाल ही में बल्लभगढ़ के जुनैद को मार दिया गया.

 

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

शयद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक