बलात्कार का आरोपी ने बनाया अपना अलग देश,नाम रखा ‘कैलासा’

0
Want create site? With Free visual composer you can do it easy.

रेप का आरोपी बाबा नित्यानंद ने अपना अलग देश बना लिया है. नित्यानंद ने दक्षिण अमेरिका के इक्वाडोर से एक प्राइवेट आइलैंड खरीदा है जिसका नाम ‘कैलासा’ रखा है. इतना ही नहीं ये Kailaasa island त्रिनिदाद और टोबैगो के करीब स्थित है और इसे नित्यानंद द्वारा संप्रभु हिंदू राष्ट्र घोषित किया गया है.
यही नही नित्यानंद ने अपने देश का अलग विधान, अलग संविधान और सरकारी ढांचे की भी जानकारी दी है. इस साइट पर ‘महानतम हिंदू राष्ट्र’ कैलासा की नागरिकता हासिल करने के लिए डोनेशन का भी आह्वान किया है. कैलासा की वेबसाइट के अनुसार, “यह बिना सीमाओं वाला एक राष्ट्र है, जिसे दुनिया भर के ऐसे हिंदुओं ने बनाया है जिन्होंने अपने ही देशों में प्रामाणिक रूप से हिंदू धर्म का अभ्यास करने का अधिकार खो दिया है.”
वही मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नित्यानंद ने अमेरिका की एक प्रसिद्ध कानूनी सलाहकार कंपनी की मदद से संयुक्त राष्ट्र में एक याचिका दायर की है. इस याचिका में उसने अपने देश को मान्यता देने की अपील की है. ‘कैलासा’ के दो पासपोर्ट हैं एक सुनहरे रंग का और दूसरा लाल रंग का. इसके झंडे का रंग मैरून है और इस पर दो प्रतीक हैं- एक सिंहासन पर नित्यानंद और दूसरा एक नंदी है। नित्यानंद ने अपने ‘देश’ के लिए एक कैबिनेट भी बनाई है और अपने एक करीबी अनुयायी ‘मा’ को प्रधानमंत्री नियुक्त किया है.
https://www.youtube.com/watch?v=mNsFHTrzsIc&t=95s

वही अहमदाबाद के पुलिस अधीक्षक एसवी असारी ने बताया कि नित्यानंद कर्नाटक में उसके खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज होने के बाद ही देश छोड़कर भाग गया था. गुजरात पुलिस उचित माध्यम के जरिए उसकी हिरासत हासिल करेगी. पुलिस ने उसकी दो महिला अनुयायियों- साध्वी प्राण प्रियानंद और प्रियातत्व रिद्धि किरण को भी गिरफ्तार किया था. दोनों पर चार बच्चों को कथित तौर पर अगवा करने और उन्हें एक फ्लैट में बंधक बनाकर रखने का आरोप है. पुलिस नित्यानंद के आश्रम से लापता हुई एक महिला के मामले में भी जांच कर रही है. महिला के पिता जनार्दन शर्मा ने शिकायत दर्ज कराई थी. पुलिस ने 20 नवंबर को स्वयंभू बाबा स्वामी नित्यानंद के खिलाफ मामला दर्ज किया था. नित्यानंद पर अहमदाबाद में अपना आश्रम योगिनी सर्वज्ञपीठम चलाने के लिए बच्चों को कथित तौर पर अगवा करने और उन्हें बंधक बनाकर अनुयायियों से चंदा जुटाने के आरोप हैं.
नित्यानंद के विदेश भागने की खबरों पर सवाल पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय ने 21 नवंबर को कहा था कि इसकी कोई औपचारिक सूचना नहीं है. स्वामी नित्यानंद का मामला अब राजनीतिक बन गया हैकांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, “यह भी (नित्यानंद) गया भारत छोड़कर, और सब कुछ गया. गुजरात में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार के नाक के नीचे! अब तो बता दीजिए यह रिश्ता क्या कहलाता है?”
बहरहाल अहमदाबाद पुलिस ने बाबा और उसकी दो सेविकाओं के खिलाफ अपहरण का मामला कर दोनों सेविकाओं को गिरफ्तार कर लिया है जबकि बाबा फिलहाल फरार होकर अपना अलग देश बना रहे है.

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुक, ट्विटर और यू-ट्यूब पर जुड़ सकते हैं.)

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

शयद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक