RSS के सहयोगी संगठन का बजट के खिलाफ देशव्यापी प्रदर्शन

0
Want create site? With Free visual composer you can do it easy.

new Delhi. बीते दिन लोकसभा में वित्तमंत्री अरुण जेटली ने आम बजट पेश किया। मोदी सरकार के इस कार्यकाल के आखिरी बजट से मिडिल क्लास और नौकरीपेशा वर्ग के साथ-साथ भारतीय मजदूर संघ भी निराश है। आरएसएस के सहयोगी संगठन ने बजट को निराशाजनक बताते हुए मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

मजदूर संगठन की तरफ से साफ कहा गया है कि सरकार ने मजदूरों और नौकरीपेशा वर्ग का बजट में बिल्कुल भी ध्यान नहीं रखा है। इसके अलावा सरकार ने इनकम टैक्स स्लैब में भी कोई बदलाव नहीं किया है। संगठन का कहना है कि बजट में मजदूर वर्ग के लिए कोई भी घोषणा नहीं की गई है साथ ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और आशा वर्कर्स को भी सरकार से निराशा ही हाथ लगी है। ऐसे में भारतीय मजदूर संगठन ने देशव्यापी प्रदर्शन का ऐलान किया है।

आपको बता दें भारतीय मजदूर संगठन आरएसएस के प्रमुख संगठनों में से एक है, ये संगठन हमेशा मजदूरों की आवाज बुलंद करता है। इसके पहले भी भारतीय मजदूर संगठन मोदी सरकार की नीतियों की आलोचना करता रहा है। नोटबंदी और जीएसटी को लेकर भी इस संगठन ने नाराजगी जताई थी। वहीं ऐसे में लोकसभा चुनाव से पहले आरएसएस के सहयोगी संगठन का यूं खुलकर बजट के विरोध में आना, बीजेपी सरकार के लिए अच्छा संकेत नहीं माना जा रहा है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

शयद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक