Browsing Category

Gujrat

महाराजा छत्रपति शाहूजी ने आज ही के दिन लागू किया था आरक्षण

पिछले कुछ समय से भारत में विभिन्न समुदायों द्वारा आरक्षण की माँग हो रही है, कई समूहों द्वारा उग्र आंदोलन भी चलाए जा रहे है। लेकिन इनमे से ज़्यादातर संगठन के पास आरक्षण के बारे में पर्याप्त जानकारी का अभाव है। भारत में एससी-एसटी-ओबीसी को संविधान द्वारा दिए गए आरक्षण के ख़िलाफ़ भी कई समुदाय आरक्षण की माँग कर रहे है। जबकि बहुत कम लोग जानते है कि भारत में आरक्षण की शुरुआत कोल्हापुर संस्थान के महाराजा छत्रपति शाहूजी ने अपने राज्य में पिछड़े समुदाय को 50% आरक्षण देकर की थी। सैकडों रजवाड़ों में बंटे भारत में अखंड भारत की कल्पना…

समाजिक क्रांति के प्रहरी, आरक्षण के जनक, श्रमण संस्कृति के महाराजा शाहूजी महाराज

By -डॉ जयंत चंद्रपाल बाबासाहब डॉ अम्बेडकर सही कहते थे की जो कोम अपना इतिहास नहीं जानती वह अपने भविष्य का निर्माण नहीं कर सकती। हम ब्राह्मण संस्कृति के राजा राम के बारे में और रामराज्य के बारे में तो बहुत जानते है मगर श्रमण संस्कृति के महाराजा शाहूजी और उनके लोकाभिमुख शासन के बारे में बहुत ही कम। Let us recognize our heroes किसी भी महापुरुष की पहचान उनके द्वारा किये गए कार्यो से होती है। 26 जून 1874 के दिन शुद्र वर्ण की कुर्मी (पाटीदार) जाति में जन्मे बहुजन एवं श्रमण संस्कृति के छत्रपति शाहू जी महाराज ने जाति व्यवस्था और इस…

‘मोदी के गुजरात मॉडल में बहुजन’

गुजरात के गांवों में नाई बहुजनों के बाल नहीं काटते। ऐसा वे सवर्णों की धमकियों, मारपीट और दुकान-मकान जला दिए जाने के डर से करते हैं। अब अगर बहुजनों को वहां बाल कटवाना हो तो उन्हें अपने एरिये से बहुत दूर जाना होता है ताकि उन्हें कोई पहचान ना सके। पहचान छुपाने के इसी क्रम में कई बार वो ख़ुद को सवर्ण भी बता देते हैं। उस दिन भी यही हुआ था। पुरुषोत्तम राठौर ढोल बजाने का काम करते हैं और आस-पास के गांवों में ढोल बजाकर ही उनकी रोटी चलती है। इसलिए उसे आसपास के सभी लोग जानते हैं। यहां उसके या उसके परिवार के बच्चों के बाल काटा जाना सम्भव…

गुजरात : ऊंची जाति वालों को रास नहीं आई बहुजन युवक की घुड़सवारी, कर दी हत्या

भावनगर: आजाद भारत को 71 साल बीत गए हैं पर जातिवाद का दंश लोगों के जहन से अभी तक नहीं निकला. न्यू इंडिया में कदम रखने की बात भले ही सरकारें कर रहीं हो पर यह भी सच है की हमारे देश में आज भी ऊंच-नीच के नाम पर हजारों लोगों की हत्याएं कर दी जाती हैं. ताजा मामले में गुजरात के भावनगर जिले में कुछ ऊंची जाति के लोगों ने एक बहुजन की इसलिए हत्या कर दी, क्योंकि ऊंची जाति बाहुल्य इलाके में उसने घोड़ा रख लिया था. इसे इज्जत की लड़ाई मानते हुए ऊंची जाति के लोगों ने ना केवल उस बहुजन युवक की हत्या कर दी बल्कि उसके घोड़े को भी मार डाला. भावनगर…

गुजरात में बहुजन युवक के मूंछ रखने पर फिर से बवाल, पीटकर किया जख्मी

गुजरात में हर दिन जातिगत भेदभाव के नये मामले सामने आ रहे हैं। ताजा मामला साबरकांठा जिले के इडार तालुका का है जहाँ ठाकुर समुदाय के आठ युवकों ने जबर्दस्ती एक बहुजन युवक की मूंछ मुड़वा दी और उसके साथ मारपीट की गयी। गोरल गांव में हुई घटना को लेकर साबरकांठा पुलिस ने आठों युवकों के खिलाफ sc st एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है। सोशल वर्क में पोस्ट गैजुएशन कर रहे बहुजन युवक की पहचान 23 वर्षीय अल्पेश पांड्या के रूप में हुई, जिसके साथ रौबीली मूंछ के चलते मारपीट हुई और उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। पिछले साल अक्टूबर में दो बहुजन …

जिग्नेश मेवाणी ने कहा मेरा एनकाउंटर कर सकती है गुजरात पुलिस

By: Ankur sethi अहमदाबाद । जिग्रेश मेवाणी से सरकार की राजनीतिक बहस तो पहले से जारी है पर अब कुछ ऐसा सामने आया है जो एकदम चौंकाने वाला है.  एक व्हाट्सऐप ग्रुप जिस पर कई सीनियर पुलिस ऑफिसर और पत्रकार जुड़े हैं वहां चैट के दौरान दो वीडियो आये . वीडियो अपलोड होने के बाद अहमदाबाद रूरल के डिप्टी SP ने एक मैसेज किया. उन्होंने लिखा है, "जो पुलिस का बाप बनना चाहते हैं और पुलिस को लखोटा कहते हैं और जो पुलिस वालों का वीडियो बनाते हैं, उन्हें याद रखना चाहिए कि उन जैसे लोगों से पुलिस ऐसा ही व्यवहार करती है. हिसाब बराबर. . दरअसल मामला 18…

भानुभाई को इंसाफ दिलाने का ऐलान करने वाले विधायकों की गिरफ्तारी के बाद भड़का गुजरात

By: Ankur sethi अहमदाबाद। सामाजिक कार्यकर्ता भानुभाई की मौत के बाद गुजरात एक बार फिर भडक गया है। गुजरात के थानगढ़ और ऊना में दलित उत्पीडऩ की घटना पहले ही सामने आ चुकी हैं और अब पाटण में दलित सामाजिक कार्यकर्ता के आत्मदाह ने गुजरात सरकार को बड़ी मुश्किल में डाल दिया है। निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी और कांग्रेस विधायक नौशाद सोलंकी की गिरफ्तारी से नाराज दलित युवकों ने कई जगह हाईवे जाम कर दिया तथा आगजनी की। गौरतलब है की मेवाणी ने रविवार को अहमदाबाद और गांधीनगर बंद का ऐलान किया था चूकिं पीएम मोदी की अहमदाबाद यात्रा जल्द ही और…

राहुल ने कहा- पहले ललित फिर माल्या अब नीरव फरार, कहां है देश का चौकीदार?

नई दिल्ली। पंजाब नेशनल बैंक में हुए 11 हजार 500 करोड़ के घोटाले को लेकर केंद्र की मोदी सरकार घिरती नजर आ रही है। सोशल मीडिया पर घोटाले को लेकर मोदी सरकार सबके निशाने पर आ गई है। पीएनबी घोटाले को लेकर विपक्ष पूरी तरह सत्ता पक्ष पर हावी है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। राहुल ने ट्वीट कर कहा है कि पहले ललित फिर माल्‍या, अब नीरव भी हुआ फरार. इससे पहले राहुल ने पीएम मोदी और और वित्त मंत्री अरुण जेटली से इस मामले पर बोलने और ‘‘गुनहगार’’ की तरह व्यवहार नहीं करने को कहा था।…

जातिवादी भारतीय शासन-प्रशासन ने ली भानुभाई की जान!

नई दिल्ली। गुजरात में भानुभाई के आत्मदाह किए जाने के बाद बहुजन समाज में आक्रोश हैं. बहुजनों ने बीजेपी सरकार के खिलाफ हल्ला-बोल का ऐलान कर दिया. पिछले काफी वक्त से भानुभाई बामसेफ से जुड़कर काफी सक्रिय रुप से कार्य कर रहे थे। भानुभाई के अंदर मूलनिवासी बहुजन समाज का दर्द रगों में खून बन चुका था। इसी भावुकता ने उनको अंदर से झकझोर दिया था। हालांकि भानुभाई जानते थे कि भारतीय समाज कठोर जातिवाद की स्थिति से उभर नहीं पाया है इसलिए उन्होंने अपना सरनेम भी बदल लिया था, ताकि भेदभाव वाली मानसिकता के अंदर के जातिवाद को तोड़ा जा सके। लेकिन…