Browsing Category

State

ناگپور ميں امبيڈکرواد نے دی گولولکر وادیوں کو چنوتی۔

By- Naeem Sharmad ناگ لوکسبھا علاقہ ميں بھاجپا اميدوار نتن گڈکری کو چنوتی دينے والی ڈاکٹر منيشا بانگر نے وہاں کی انتخابی جنگ کو بہوجن بنام برہمنواد یا اشراف نظام کے نقشہ پر کھينچ ليا ہے۔ انکے عوامی جلسوں اور تکریروں کا ردِعمل جيس شکل ميں ديکھنے کو ملا ہے اس سے ساف ظاہر ہے کہ منيشا اس جنگ ميں بہوجنوں کے جزبات ؤ احساسات کی اچھی قيادت کر رہی ہيں۔ سؤشل ميڈيا پر ڈاکٹر منيشا کی حمايت ميں لوگوں کے ردِعمل کو ديکھ کر لگتا ہے کہ بہوجن معاشرہ کے لوگ کھل کر انکے ساتھ ہيں۔ اور یہ نتن گڈکری کے ليے ايک سنجيده اور کھلا چيلنج ہے۔…

अली अनवर को टिकेट दिलवाने के लिए पसमांदा मुस्लिम समाज ने भरी हुंकार

Published by- Aqil Raza By- अभिजीत आनंद बिहार में पसमांदा मुस्लिम समाज राजनीतिक पार्टियों द्वारा टिकेट वितरण में नज़रंदाज़ किये जाने पर बेहद नाराज़ है. इस सन्दर्भ में समाजशास्त्री प्रो. खालिद अनीस अंसारी ने 23 मार्च को change.org पर एक ऑनलाइन पेटीशन आरंभ की जिसमे राष्ट्रीय जनता दल (राजद) पार्टी से पसमांदा नायक श्री अली अनवर अंसारी के लिए मधुबनी लोक सभा सीट देने की मांग की गयी है. पेटीशन में राजद के ऊपर हमेशा अगड़े मुसलमानों को टिकेट वितरण में तरजीह देने का इलज़ाम लगाया गया है. इस के साथ ही राजद लीडरशिप को सचेत किया गया है कि इस…

नितिन गडकरी को चुनौती दे रही मनीषा बांगर के नाम एक संदेश!

Published by- Aqil Raza Via- Sobran Kabir Yadav   ~ आप है डॉक्टर डॉ मनीषा बांगर (Manisha Bangar) जी।। आपने संघ परिवार को उसके गढ़ नागपुर में घुसकर चुनौती देने का मन बनाया है।। देश की 85 फीसदी जनता आपके साथ है।। नागपुर एक तरफ संघ परिवार का गढ़ है वहीं नागपुर बाबा साहब की कर्मभूमि भी रही है।। https://www.youtube.com/watch?v=t6F2K_sefto बाबा साहब ने नागपुर में ही अपने लाखों अनुयायियों के साथ मानसिक रूप से बीमार सवर्ण हिंदुओं के ब्राह्मण धर्म को तिलांजलि दी थी और सामाजिक परिवर्तन का सूत्रपात किया था।। उम्मीद है नागपुर की…

गुरुग्राम: होली के दिन मुस्लिम परिवार पर किया हमला, कहा “पाकिस्तान जाओ”

By- Aqil Raza   ~  एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, वीडियो में देखा जा सकता है कि कुछ गुंडे एक परिवार के सदस्यों को पीटते हुए नज़र आ रहे हैं। वीडियों में परिवार कि महिलाओं की अवाज़े भी सुनी जा सकती हैं और वो उन गुंडो से रहम की भीक मांग रही है। नीचे पड़े एक शख्स को वो गुंडे लहुलुहान कर देते हैं। वीडिया की पड़ताल के बाद पता चला कि यह घटना गुड़गांव के धमसपुर गांव की है, जहां होली के दिन एक मुस्लिम परिवार और उनसे मिलने आए रिश्तेदारो को बेरहमी से पीटा गया। आरोप है कि होली के दिन 20 25 लोग मुस्लिम परिवार के घर…

ڈاکٹر منيشا بانگر مردوادی زہنيت کی چنوتیوں سے لڑ کر اپنی الہيدا پہچان بنانے والی ملک کی منتخب بہوجن ليڈر ہيں۔

ڈاکٹر منيشا بانگر مردوادی زہنيت کی چنوتیوں سے لڑ کر اپنی الہيدا پہچان بنانے والی ملک کی منتخب بہوجن ليڈر ہيں۔ ناگپور سے پیپلس پارٹی آف انڈيا (PPI) نے انکے لؤکسبھا اميدوار ہونے کا اعلان کيا ہے۔ بہوجن نايک کاشی رام نے بامسيف جيسی معشرتی تنزيم کے ذريعہ خواتين کی نمأندگی کرنے کے ليے ماياوتی کی قابليت کو پہچانا تھا۔ کچھ وقت ميں ہی ماياوتی نے خود کو سابت کر کے دکھايا۔ تب سے لے کر آج تک بہوجن آندولن سے جڑی تنزيموں ميں نيی نسل کی قيادت کرنے والوں ميں يہ قابليت منيشا بانگر ميں دکھتی ہے۔ پیپلس پارٹی آف انڈيا نے منيشا کی قابليت کو نہ…

बहुजन समाज से आती थी भारत देश की पहली महिला शासक

Published by- Aqil Raza   ~ भारत के इतिहास में बतौर पहली महिला शासक प्रभावती गुप्त, रानी दिद्दा और रूद्रम्मा देवी से लेकर रजिया सुल्तान के नाम आते रहे हैं। मगर रुकिए, .... भारत की पहली महिला शासक नाग कन्या नागनिका थी, जिसका शासन प्रथम सदी ईसा पूर्व में था, जिसके चाँदी के सिक्के महाराष्ट्र से मिले हैं। सिक्कों के ठीक बीचों - बीच रानी नागनिका का नाम लिखा है। इसकी लिपि ब्राह्मी और भाषा प्राकृत है। आप इसे चित्र दो में देख सकते हैं। लेखिका शुभांगी भडभडे ने मराठी भाषा में रानी नागनिका पर एक ऐतिहासिक उपन्यास लिखा है। उपन्यास में…

मनुवाद की जड़े मजबूत करने के लिए BJP क्यों चाहेगी 2019 का चुनाव जीतना?

Published By- Aqil Raza  ~ मनुवाद की जड़ें मजबूत करनी है तो 2019 का चुनाव बीजेपी को जीतना होगा, समझें कैसे। इसके लिए पहले समझना पड़ेगा कि आखिर दलित बनाये कैसे जाते हैं। दलित होने के लिए आवश्यक है कि बहुजन समाज को शिक्षा के लिए गैर ज़रूरी बना दिया जाय और व्यक्ति को संसाधन विहीन। दलित बनाने में 75% योगदान अशिक्षा का है तो शेष योगदान संसाधनहीनता का है। https://www.youtube.com/watch?v=33cmXTEhRss&t=250s एक उदाहरण से समझते हैं, एक अति-शिक्षित बेरोजगार जिसकी उम्र आज 25 से 30 साल के बीच है, आंदोलन कर रहा है, लाठी खा रहा…

سپريم کورٹ نے جاری کيا اليکشن کميشن کو نؤٹس۔

By- Naeem ~ بی جے پی کے دور ے اقتدار ميں کئی معاملے گرم رہے۔ اور انہيں تمام معلوملات ميں سے ايک ہے ای وی ايم کا معاملہ۔ جو بار بار سر اٹھا ليتا ہے۔ ہمارے پچھلے مضمون "ای وی ايم کی کہانی شجہ سيد کی زبانی" ميں آپنے پڑھا کہ کيسے اور کتنے بڑے گھوٹالے ميں شامل ہے بی جے پی۔ شجہ کو اپنی جان بچانے کے ليے اپنا ہی ملک چھوڑ کر بھاگنا پڑا ليکن پھر بھی اسنے ايک ذميدار ہندوستانی کی طرح سامنے آ کر عوام کے سامنے سچ رکھا۔ خير اب اس ای وی ايم نامی جن کی پھر سے نمود ہوئی ہے۔ اور ابکی بار ای وی ايم کے سرخيوں ميں ہونے کی وجہ ہے کورٹ کا وہ نوٹس…

THE BIOPSY OF A CARCINOMA

THE BIOPSY OF A CARCINOMA. Manohar Parrikar (13th-Dec-1955 to 17th-Mar-2019) Gavin Alvares, a Goan, He was called the “tallest leader in the state” by his sycophantic followers, a “great administrator” by his obsequious stooges, and a “decisive governor” by his servile lackeys. The reality was very different for those who could see beyond the veneer of the IIT credentials and clean image he hid behind. Manohar Gopalkrishna Prabhu Parrikar joined the RSS young, and fully immersed himself in its poisonous culture of…

वह एक विदूषक का प्रतिअक्स भर है, हाँ कन्हैया कुमार…

By- Sanjeev Chandan   ~ कन्हैया कुमार के शोध शिक्षक हैं एसएन मालाकार. मालाकार जाति के सवाल पर बहुत स्पष्ट समझ और धारणा वाले शिक्षक हैं. लेकिन संकट यह है कि कन्हैया कुमार की जाति का असर इतना गहरा है कि उसे न जाति की समझ बन पायी न जेंडर की. सवर्ण पब्लिक स्फीअर के कंधे पर बैठा कन्हैया कुमार महिला पत्रकार द्वारा उसकी जाति के लाभ के बारे में पूछे जाने पर पलटकर पत्रकार की जाति का लाभ पूछ लेता है. पत्रकार भी इस मामले में ऊंची जाति की महिला है जो सदियों से प्रिविलेज्ड जाति की कथित सदस्य है और कन्हैया की जाति ने उन्नीसवीं सदी के पहले…