ब्राउजिंग श्रेणी

Uncategorized

CAA के खिलाफ आयोजित रैली में गरजे राहुल गांधी, कहा- असम को नागपुर नहीं चलाएगा

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) आज (शनिवार) गुवाहाटी में हैं. राहुल ने यहां नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) के विरोध में एक रैली को संबोधित किया. संशोधित कानून के विरोध में बीते दिनों असम में काफी हिंसा हुई थी. जिसके बाद शनिवार को राहुल ने गुवाहाटी में रैली की. राहुल ने मोदी सरकार और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) पर निशाना साधते हुए कहा, 'असम के युवा इस कानून के खिलाफ प्रोटेस्ट कर रहे हैं, बाकी जगहों पर युवा प्रोटेस्ट कर रहे हैं. पुलिस को गोली मारने की क्या जरूरत है.

CAA के खिलाफ प्रदर्शनों में हिस्सा लेने पर ITT मद्रास में पढ़ने वाले जर्मनी के छात्र को पड़ा भारी

नए नागरिकता कानून का विरोध कर सुर्खियों में आए आईआईटी मद्रास के एक जर्मन छात्र को देश छोड़ना पड़ा है. खबरें हैं कि जैकब लिंडेनथल को पिछले हफ्ते सरकार विरोधी एक प्रदर्शन में शामिल होने के चलते आव्रजन विभाग से चेतावनी मिली थी. जैकब ने अपने ट्विटर हैंडल से कुछ तस्वीरें पोस्ट की थीं. इनमें वे कुछ नारे लिखी तख्तियां लिए दिख रहे थे. इनमें से एक तख्ती पर लिखा था, ‘1933 से 1943 तक हमने भी ये दौर देखा है.’ आईआईटी मद्रास ने स्‍टूडेंट प्रोग्राम के तहत पढ़ाई करने के लिए भारत आए जर्मन के एक छात्र जैकोब लिंडेंथल को अपने देश वापस जाने

योगी आदित्यनाथ ने रद्द किए लखनऊ से बाहर के सारे कार्यक्रम, यूपी सरकार ने मानी 11 मौतों की बात

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में भारी हिंसा हुई। इस दौरान एक आठ साल के बच्चे समेत 11 लोगों की मौत हो गई। अधिकारियों ने भी इस बात की पुष्टि की है। जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़पें हुई। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने पुलिसकर्मियों पर पत्थर बरसाएं और उग्र भीड़ ने कई वाहनों में आग लगी दी। वहीं पुलिस ने लाठीचार्ज कर और आंसू गैस के गोले छोड़कर भीड़ को नियंत्रित करने का प्रयास किया। राज्य के करीब 20 जिलों में हिंसक प्रदर्शन हुए, जिनमें फिरोजाबाद, भदोही, बहराइच,

‘गोली न मार दे सरकार, इसलिए खुद को बेड़ियों में जकड़कर पहुंचे हैं’, CAA का विरोध कर रहे पप्पू यादव बोले

देश के कई हिस्सों में नागरिकता संशोधित कानून (CAA) को लेकर जमकर विरोध प्रदर्शन हो रहा है। इस कानून के विरोध में बिहार के बाहुबली नेता और जन अधिकार पार्टी (जैप) के अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव भी शामिल हो गए हैं। पप्पू ने इस कानून के खिलाफ अपना विरोध कुछ अलग अंदाज़ में व्यक्त किया। वे खुद को बेड़ियों में जकड़कर सड़क पर प्रदर्शन करते नज़र आए। इस दौरान जब पप्पू से मीडिया ने पूछा कि वह बेड़ियों में खुद को जकड़कर प्रदर्शन क्यों कर रहे हैं। इसपर उन्होंने कहा कि सरकार कहीं गोली न मार से इसलिए ऐसे सड़कों पर उतरे हैं। पप्पू

जामिया हिंसा मामले में 10 लोग गिरफ्तार, कोई छात्र नहीं, तो छात्रों को पुलिस ने क्यों पीटा?

जामिया यूनिवर्सिटी में छात्रों द्वारा ‘कथित’ हिंसा के मामले में दिल्ली पुलिस ने 10 लोगों को गिरफ्तार किया है। महत्वपूर्ण बात यह है कि, इन 10 गिरफ्तार लोगों में एक भी ‘जामिया मिल्लिया इस्लामिया’ का छात्र नहीं है। इन सभी गिरफ्तार लोगों का कोई न कोई क्रिमिनल बैकग्राउंड है। अब सवाल है कि हिंसा सड़क पर हुई, बसें सड़क पर जलीं और उन्हें जलाने वाले जामिया के छात्र नहीं थे, तो फिर दिल्ली पुलिस जामिया के कैम्पस में घुसकर छात्रों पर लाठियां क्यों भांज रही थी? छात्रों को लाइब्रेरी के अंदर डेस्क के नीचे शरण लिए छात्रों को बाहर

जामिया की छात्रा ने रोते हुए सुनाई आपबीती, कहा- मैं मुस्लिम नहीं हूं फिर भी पहले दिन से लड़ रही

जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी (Jamia Millia Islamia University) के छात्रों द्वारा नागरिक संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) के विरोध का मामला तूल पकड़ चुका है. रविवार शाम दिल्ली के जामिया नगर से लगे सराय जुलैना के पास डीटीसी की तीन बसों को आग लगाने से बात शुरू हुई और फिर राजधानी दहल उठी. जामिया के छात्रों का आरोप है कि पुलिस ने यूनिवर्सिटी में घुसकर उनसे मारपीट की. झारखंड के रांची की रहने वाली एक छात्रा मीडिया के सामने आई और रोते हुए अपनी आपबीती सुनाई. छात्रा ने कहा, 'जब ये सब शुरू हुआ तो हम लाइब्रेरी में

हम हिन्दू बाई चांस इस देश में रहे लेकिन मुस्लिमों ने बाई चॉइस इस मुल्क को पसंद किया : हर्ष मंदर

नागरिकता संशोधन बिल के पास हो जाने से देश के सभी इलाकों में लोग विरोध प्रदर्शन कर रहें है। एक ओर जहां सरकार इसके फ़ायदे की दलीले संसद के दोनों सदनों गिना रही है। वहीं इसके खिलाफ लोग सड़क पर पुरजोर विरोध कर रहे हैं। इस बिल के खिलाफ दिल्ली के जंतर-मंतर पर रोज़ भारी तादाद में लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। आज ‘नॉट इन माय नेम’ समूह द्वारा आयोजित प्रदर्शन में हज़ारों की संख्या में लोग इक्क्ठा होकर इस बिल के खिलाफ प्रदर्शन किया। वहीं इस प्रदर्शन में आए लेखक और मानवाधिकार कार्यकर्ता हर्ष मंदर ने मोदी सरकार के इस बिल को संविधान

राहुल गांधी के ‘रेप इन इंडिया’ वाले बयान पर स्मृति ईरानी का प्रहार, चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ‘रेप इन इंडिया’ वाले बयान को लेकर संसद में इसका कड़ा विरोध किया जा रहा है. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने संसद में इस बयान पर राहुल से माफी मांगवाने की मांग की थी। राहुल ने माफी मांगने से इनकार कर दिया. राहुलगांधी ने कहा था कि नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने पूर्वोत्तर राज्य को जलाया है. उस मुद्दे से ध्यान हटाने के लिए नरेंद्र मोदी मुझ पर हमला बोल रहे हैं. मैं अपना बयान फिर से कहता हूं कि मोदीजी ने कहा कि मेक इन इंडिया होगा। हमें लगा कि मेक इन इंडिया दिखाई देगा. आज जब हम अखबार खोलते हैं तो हमें

नागरिकता संशोधन क़ानून: विरोध कर रहे जामिया के छात्रों पर लाठीचार्ज

नागरिकता संशोधन बिल के विरोध की आग पूर्वोत्तर राज्यों से अब दिल्ली तक पहुंच गई है। कल शुक्रवार को जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के छात्रों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिसकर्मियों ने छात्रों पर लाठियां चलाई और आंसू गैस के गोले भी छोड़े। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। वीडियो में देखा जा सकता है कि आंसू गैस के गोले छोड़ते ही प्रदर्शन कर रहे छात्र इधर-उधर भागने लगते हैं। इस दौरान कैंपस में अफरा-तफरी का माहौल नजर आ रहा है। सोशल मीडिया पर छात्रों ने वीडियो साझा किया है, जिसमें पुलिस

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर का अपनी पार्टी बनाने का एलान, दिल्ली चुनाव लड़ेंगे

भीम आर्मी चीफ रावण चंद्रशेखर आजाद ने अब पूरी तरह से राजनीति में उतरकर चुनाव लड़ने का फैसला ले लिया है. जल्द ही वो अपनी पार्टी के नाम का एलान करने वाले हैं. अभी तक भीम आर्मी बीएसपी को राजनीतिक विकल्प के तौर पर समर्थन देती थी लेकिन नागरिकता संशोधन बिल पर बीएसपी पार्टी के रुख से आहत होकर चंद्रशेखर ने अपने खुद के राजनीतिक दल का एलान किया है. उन्होंने बताया कि वह आगामी दिल्ली विधानसभा में अपने उम्मीदवार उतारेंगे. इसके बाद यूपी में पंचायत चुनाव और विधानसभा चुनाव लड़ेंगे.आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव में चंद्रशेखर की पार्टी अधिक से