ब्राउजिंग श्रेणी

World

सोनभद्र नरसंहार पीड़ितों के लिए मायावती का बड़ा ऐलान

सोनभद्र में 17 जुलाई को जमीन विवाद को लेकर नरसंहार के बाद जो देश की गरमाई सियासत सीएम योगी के दौरे के बाद भी थमने का नाम नहीं ले रही है। घटना के बाद से लगातार वहां पार्टी नेताओं के पहुंचने का सिलसिला जारी है। इसी कड़ी में बहुजन समाज पार्टी के नेताओं ने उम्भा गांव का दौरा करके मृतकों के परिजनों के साथ उनका दुःख साझा किया। वहीं BSP सुप्रीमों मायावती के निर्देश पर विधानमंडल दल के नेता लालजी वर्मा और प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा पीड़ितों से मिलने पहुंचे। वहीं लाल जी वर्मा ने कहा कि मृतक परिवार को 50 लाख रुपये और 10 बीघा जमीन…

पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव की फांसी पर ICJ ने लगाई रोक।

पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से जुड़े मामले में इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस(आईसीजे) ने बुधवार को अपना फैसला सुनाते हुए जाधव की फांसी पर पुनर्विचार करने को कहा है। भारत के हक में फैसला सुनाते हुए इंटरनेशनल कोर्ट ने जाधव को कांस्युलर एक्‍सेस देने का आदेश भी दिया है। लेकिन आईसीजे के इस फैसले को पाकिस्तान अपनी जीत बता रहा है। भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव को 2016 में बलूचिस्तान से गिरफ्तार किया गया था और पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने 2017 में उन्हें जासूसी और आतंकवाद के आरोप में मृत्युदंड की सजा…

ईश्वर से बढ़कर है संविधान बुधनमा

By: Nawal Kishor Kumar इस बार लोकसभा को देखके मन हरियर हो गया नवल भाई। एकदम बदला-बदला है इस बार का संसद। आप देखे कि नहीं। क्या देखना था यार बुधनमा। अच्छा यह बताओ कि आप इतने खुश क्यों हो रहे हो। मुझे तो अफसोस हुआ। क्या बात करते हैं नवल भाई। देखे नहीं कि जैसे ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सांसद के रूप में शपथ लेने के लिए बढ़े, पूरा सदन मोदी-मोदी और जय श्री राम के नारे से गूंज रहा था। मेरा तो मन एकदम एक्साइटेड हो गया। लगा कि बाबा साहब का संविधान एक झटका में फेंक के सब मनुस्मृति रख देगा संसद में। यह अच्छी बात है कि अब तुम भी संसद…

विश्चकप में पंडित का दर्शन किये बुधनमा?

By: Nawal Kishor Kumar ब्राह्मण भारतीय समाज का कोढ़ है। दुर्भाग्य यह है कि आज भी यह बना हुआ है। कल विश्वकप के मैच में भी यह देखने को मिला। तुमने देखा था बुधनमा भाई? हां, मैच तो देखे थे थोड़ा देर। लेकिन आपको वहां कौन ब्राह्मण मिल गया। वहां तो सब जाति-धर्म के लोग थे। आपकी नजर भी कमाल की है। हजारों की भीड़ में ब्राह्मण मिल ही जाता है। इ तो बताइए कि क्या हुआ। मुझे क्या होगा। मैं तो मैच ही देख रहा था। एक आदमी नंगे बदन दिख गया। पूरे बदन पर उसने इंडिया पोत रखा था। फिर तेंदुलकर भी था उसके शरीर पर। बेचारा कमेंटेटर कुछ बोल रहा था।…

रामराज और आदर्शराज का अंतर समझो बुधनमा

By- Nawal Kishor Kumar आज भोरे-भोरे एतना काहे चवनिया मुस्की मार रहे हो बुधनमा भाई। कोई खास बात है का? आउर दिन तो मुंह से ताड़ी के बास आता रहता है। आप भी न नवल भाई। आप एक नंबर के चालू आदमी हैं। हमको खुश होने का एको गो मौका नहीं देना चाहते हैं। आज का खबर नहीं देखे। कौन सी खबर बुधनमा भाई। नयका सरकार ने आते ही काम कर दिया। तीन तलाक वाला जो कानून है, उसको कैबिनेट ने पास कर दिया है। अब सब मुस्लिम महिलाओं के अधिकार की रक्षा हो सकेगी। इ काम तो ठीक किया है ई मोदी। अब तो रामराज आ ही गया। बुधनमा भाई। आप न एक नंबर के मासूम इंसान हैं।…

क्रांति का प्रतीक चे ग्वेरा: खूबसूरत दुनिया के लिए जिंदगी और मौत से मोहब्बत करने वाला क्रांतिकारी

(जन्म 14 जून 1928- शहादत 9 अक्टूबर 1967) क्रांतिकारियों की गैलेक्सी के एक चमकते सितारे का नाम अर्नेस्टो चे ग्वेरा है। एक ऐसा नाम जिसे सुनते ही नसें तन जाती हैं। दिलो-दिमाग उत्तेजना से भर जाता है। हर तरह के अन्याय के खिलाफ लड़ने और न्यायपूर्ण दुनिया बनाने के ख्वाब तैरने लगते हैं। उम्र छोटी हो, लेकिन खूबसूरत हो, यह कल्पना हिलोरे मारने लगती है। कल्पना करना मुश्किल है, लेकिन यह सच है सिर्फ और सिर्फ 39 साल में शहीद हो जाने वाला एक नौजवान इतना कुछ कर गया जिसे करने के लिए सैकड़ों वर्षों की उम्र नाकाफी लगती है। वह फिदेल कास्त्रो के…

जय श्रीराम के नारे का मुकाबला फुले, पेरियार और आंबेडकर की विचारधारा से ही किया जा सकता है।

भाजपा के राजनीतिक विस्तार में जय श्रीराम के नारे की सबसे निर्णायक भूमिका रही है। लालकृष्ण आडवाणी की सोमनाथ से अयोध्या तक के लिए शुरू की गई रथयात्रा का मुख्य नारा जय श्रीराम था। बाबरी मस्जिद का विध्वंस भी जय श्रीराम के नारे के साथ किया गया था। मंडल की राजनीति को पराजित करने के लिए यह नारा व्यापक पैमाने पर उछाला गया। गुजरात नरसंहार का भी मूल नारा जय श्रीराम था। जय श्रीराम के नारे, विचार और एजेंडे की भाजपा को 2 सांसदों की पार्टी से 300 से अधिक सांसदों की पार्टी बनाने में अहम भूमिका रही है। जिसने वर्ण-जाति आधारित हिंदू राष्ट्र…

डॉ मनीषा बांगर को डॉ पायल तडवी की दुखद घटना सुनकर अपने मेडिकल पढ़ाई के वक्त का ये वाकया याद आया।

डॉ. पायल तडवी अब इस दुनिया में नहीं है। उसकी जान किसने ली, अब यह हम सभी जानते हैं। यह भी कि किस तरह द्विज जातियों की तीन महिलाएं जो कि स्वयं भी मेडिकल की छात्राएं हैं, के द्वारा जातिगत और विद्वेषपूर्ण आचरण के कारण डॉ पायल तडवी ने खुदकुशी कर ली। हालांकि पुलिस ने इन तीनों महिलाओं के खिलाफ एक्शन लिया है, लेकिन भारतीय न्यायिक व्यवस्था में कानूनी प्रावधानों को देखते हुए इन तीनों को सजा मिलेगी, यकीनी तौर पर नहीं कहा जा सकता है। मैं स्वयं चिकित्सक हूं और मैंने स्वयं उस पीड़ा को महसूस किया है जो डॉ. पायल तडवी को सहनी पड़ी होगी। बात…

बुद्ध पूर्णिमा पर बुद्ध के दुश्मनों को पहचानिए

~ संजय श्रमण बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर बुद्ध के सबसे पुराने और सबसे शातिर दुश्मनों को आप आसानी से पहचान सकते हैं। यह दिन बहुत ख़ास है इस दिन आँखें खोलकर चारों तरफ देखिये। बुद्ध की मूल शिक्षाओं को नष्ट करके उसमे आत्मा परमात्मा और पुनर्जन्म की बकवास भरने वाले बाबाओं को आप काम करता हुआ आसानी से देख सकेंगे। भारत में तो ऐसे त्यागियों, योगियों, रजिस्टर्ड भगवानों और स्वयं को बुद्ध का अवतार कहने वालों की कमी नहीं है। जैसे इन्होंने बुद्ध को उनके जीते जी बर्बाद करना चाहा था वैसे ही ढंग से आज तक ये पाखंडी बाबा लोग बुद्ध के पीछे…

वोटिंग के दौरान कई जगहों पर हुई हिंसा ,पुलिस पर किया गया पथराव ।

By- Saddam Karimi लोकतंत्र के महा पर्व में इस तरह से घटना कहीं ना कहीं सत्ता रूढ़ बीजेपी पर सवाल खड़ा कर रहा हैं। वहीं लोकसभा चुनाव 2019 के दूसरे चरण के लिए गुरुवार को 12 राज्यों की 95 लोकसभा सीटों पर वोटिंग जारी है. दूसरे चरण में तमिलनाडु की 38, कर्नाटक की 14, महाराष्ट्र की 10, उत्तर प्रदेश की 8, असम, बिहार और ओडिशा की 5-5, छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगाल की 3-3, जम्मू कश्मीर की 2 और मणिपुर और पुडुचेरी की एक-एक सीटों पर मतदान हो रहा है. इसके साथ ही ओडिशा के 35 विधानसभा सीटों पर भी वोट डाले जा रहे हैं. वहीं, पश्चिम बंगाल में…