कोरोना: यूपी में फैक्ट्री पर छापेमारी, नकली सैनिटाइजर-मास्क जब्त

0
Want create site? With Free visual composer you can do it easy.

वैसे तो योगी सरकार में रेप, हत्या और लूटपात चरम पर चल रहा है. लेकिन एक औऱ खबर सामने आई है, जो योगी सरकार को कटघरे में खड़ा करती है. एक तरफ पूरी दुनिया कोरोना जैसी महामारी से लड़ रही है. सभी देश अपने लोगो के बचाव के लिए पैसो को पानी की तरह बहा रहे है.

लेकिन यूपी की योगी सरकार में इस महामारी पर भी पैसे कमाने के लिए काला बाजारी हो रही है. मौत के इस महामारी में आम जनता के जान से खेला जा रहा है. अवाम को नकली, सैनिटाइजर और वैकसीन उच्च दामों पर बेचा जा रहा है. यहां तक कि खुद यूपी पुलिस ने यह दावा किया है.

बता दें कोरोना वायरस की महामारी के कारण लोगों में सैनिटाइजरऔर मास्क की मांग बढ़ गई है, इसको देखते हुए कुछ कंपनियों ने कालाबाजारी शुरू कर दी है., साथ ही नकली सैनिटाइजर का गोरखधंधा बड़े पौमाने पर ये कंपनिया कर रही है और धड़ाधड़ नोट छाप रही है जिससे लोगों की जान पर खतरा बढ गया है. एक तरह से योगी सरकार में ये कंपनिया आम लोगो की मौत से खेल रही है.

इसी कड़ी में नोएडा जिला प्रशासन ने ऐसी ही एक कंपनी पर छापा मारा है. जहां से भारी मात्रा में नकली सैनिटाइजर और मास्क बरामद किए गए है. छापेमारी के बाद इस फैक्ट्री को सील कर लिया है और सारा माल जप्त कर लिया गया है. यह कार्रवाई एक सूचना के आधार पर की गई है. . एसडीएम दादरी का कहना है कि जांच में पता चला है कि जप्त किए गए हैंड सैनिटाइजर बिना लाइसेंस के बनाकर बेचे जा रहे थे.

अब आप ही सोचिए की बिना जांच के ये सैनिटाइजर बेचा जा रहा है ये कितना डरावना है. यह जानकर अफसोस होता है कि देश में कोरोना जैसे भयानक वायरस से सरकार इस तरीके से लड़ रही है. लेकिन सोचिए ऐसी कितनी ही कंपनी धोखाधड़ी माल बेच रही होगी जो लोगों की मासूम जान के साथ खिलवाड़ कर रही है. आखिर कब तक ऐसे काले कारनामें मोदी सरकार में होते रहेंगे.

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुकट्विटरऔर यू-ट्यूबपर जुड़ सकते हैं.)

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

शयद आपको भी ये अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक