‘भारत बंद’ के दौरान हुई हिसा का मध्यप्रदेश के IG ने किया खुलासा, मायावती ने भी लगाए कई गंभीर आरोप

0
Want create site? With Free visual composer you can do it easy.

By- Aqil Raza

बहुजनों के भारत बंद के दौरान हुई हिंसा को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। दरअसल एससी-एसटी एक्ट में दिए गए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ 2 अप्रैल को बहुजन समाज के लोग सड़क पर उतरे थे और भारत बंद किया था। साथ ही प्रदर्शनों के दौरान तमाम जगाहों पर हिंसा भी हुई थी और 8 लोगों की मौत हो गई थी। कहा गया था कि तथाकथित सवर्ण समाज के गुंडो ने बहुजनों के इस प्रदर्शन को हिंसक बनाने का प्रयास किया था।

वहीं अब मध्यप्रदेश के आईजी इंटेलिजेंस मकरंद देउस्कर ने इस हिंसा को लेकर बड़ा खुलासा किया है उन्होंने कहा है कि मध्यप्रदेश में दंगे फैलाने के लिए संगठनों को मोटी रकम दी गई थी। आईजी ने कहा कि पूरे मामले की जांच इंटेलिजेंस कर रहा है और जल्द ही इंटेलिजेंस इस मामले का खुलासा करेगा। उन्होंने कहा कि फंडिंग करने वालों को इंटेलिजेंस ने चिन्हित किया है, फंडिग करने वाले प्रदेश के सामाजिक संगठनों से जुड़े हैं।

सवाल यह है कि अगर हिंसा भड़काने के लिए मोटी रकम दी गई है तो किसने दी है, किसे परेशानी थी बहुजनों के इस आंदोलन से, और कौन हैं वो लोग जिन्होंने बहुजन के इस आंदोलन को खूनी आंदोलन बनाने की रणनीति बनाई थी। क्यों बहुजन समाज आज जब अपने अधिकारों की रक्षा के लिए सड़कों पर आया तो उसे देशद्रोही बनाने की कोशिश हुई। इसके अलावा तमाम ऐसी खबरे आ रही हैं जहां बहुजन युवाओं को पुलिस गिरफ्तार कर रही है। तमाम संगीन धाराओं में उन पर मुकदमें दर्ज किए जा रहे हैं।

जिसकी शिकायत यूपी में भी खुद बीजेपी के सांसदों ने की है। यूपी प्रशासन की कार्यप्रणाली से नाराज़ होकर अबत 4 सांसदों ने नाराज़गी जताते हुए पीएम मोदी से शिकायत की है। जिसमें कहा गया था कि 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान हुइ हिंसा के बाद बहुजनों को काफी ज्यादा प्रताड़ित किया जा रहा है। उन्होंने ये भी कहा था कि पुलिस गलत केसों में फंसा कर बहुजन लोगों को घरो से निकालकर पीट रही है। आपको बता दें कि ग्वालियर में प्रदर्शनकारियों पर फायरिंग करते हुए राजा चौहान का एक वीडियो वायरल हुआ। जिस पर आरोप है कि बहुजनों के आंदोलन में हिंसा फैलाने के लिए राजा चौहान ने फायरिंग की थी।

वहीं बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने देश भर में दो अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के खिलाफ भारत बंद को बेहद सफल बताया है। लखनऊ में आज मायावती ने कहा कि दो अप्रैल को भारत बंद की सफलता से भारतीय जनता पार्टी बेहद भयभीत है। इसी भय की वजह से बहुजन नेताओं पर केस दर्ज हो रहे हैं। उन्होंने धमकी भरे लहजे में कहा है कि बहुजनों के खिलाफ बेवजह केस दर्ज कर बीजेपी आग से न खेले। इस मामले में बीएसपी सुप्रीमों मायावती ने नरेंद्र मोदी सरकार को निशाने पर लिया है। मायावती ने आरोप लगाया है कि एससी एसटी एक्ट में बदलाव के खिलाफ भारत बंद में शामिल होने वाले लोगों का पुलिस उत्पीडऩ कर रही है और बहुजनों को निशाना बनाया जा रहा है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

You might also like More from author