MP के बाद गुजरात में टूट, 4 कांग्रेसी विधायकों ने दिया इस्तीफा

0

मध्यप्रदेश के बाद अब गुजरात में भी सियासी संकट के बादल छा गए है. तमाम कवायदों और प्रयासों के बाद भी सरकार पर काले बादल उल्टा लगातार घने होते जा रहे है. गुजरात में भी राज्यसभा चुनाव से पहले 4 कांग्रेस विधायकों ने इस्तीफा दें दिया है.

इस मामले की पुष्टि गुजरात विधानसभा के स्पीकर राजेंद्र त्रिवेदी ने की है. उन्होंने बताया कि चार विधायकों ने मुझे अपने इस्तीफे सौंपे है. जिन विधायकों ने इस्तीफा दिए वे जेवी काकड़िया, प्रवीण मारु, प्रद्युमन सिंह जडेजा और सोमाभाई पटेल है.

वहीं इससे पहले भी मध्यप्रदेश में कांग्रेस से 22 विधायकों के इस्तीफा देने के बाद विधानसभा अध्यक्ष ने 6 विधायकों को व्यक्तिगत तौर पर उपस्थित होकर इस्तीफा देने को कहा था. इसके साथ ही अपने इस्तीफे की वजह भी बताने की बात कही थी कि इस्तीफा किसी के दबाव में आकर दिया है या स्वेच्छा से दिया गया है. विधानसभा अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने शुक्रवार के दिन करीब 3 घंटे से ज्यादा उन सभी विधायकों का इंतजार किया. जिसके बाद प्रजापति ने कहा कि कांग्रेस से इस्तीफा देने वाले छह विधायक अपने इस्तीफे का कारण बताने के लिए व्यक्तिगत तौर पर उनके समक्ष पेश नहीं हुए.

बता दें कि 10 फरवरी को कांग्रेस से ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इस्तीफा दे दिया था जिसके बाद से ही सियासत में हलचल बनी हुई है. लेकिन हद तो तब हो गई जब सिंधिया ने अगले ही दिन बीजेपी का दामन थाम लिया. इस घटना के बाद से ही सियासत और ज्यादा गर्माई हुई है. जिसके बाद सिंधिया की राह पर चलते हुए 22 विधायकों ने इस्तीफा दे दिया.

इन सबके बाद भी सियासत थमी नही, गुजरात में 4 और विधायकों ने इस्तीफा दे दिया. वहीं अब इस सियासी हलचल के बीच कांग्रेस सरकार को तगड़ा झटका लगा है जो पूरी तरह से हिल चुकी है. अब देखना यह होगा कि कमलनाथ सरकार अपनी बहुमत विधानसभा में कैसे साबित करती है. फिलहाल कमलनाथ सरकार के लिए थोड़ी राहत है क्योकि कोरोना की वजह से फ्लोर टेस्ट 26 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया गया है.

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुकट्विटरऔर यू-ट्यूबपर जुड़ सकते हैं.)

उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा।