Home International Political सपा प्रमुख इस बच्चे की करेंगे आर्थिक मदद, कहा- जनता सत्ता का दिया दुख झेल रही है!
Political - Social - 2 weeks ago

सपा प्रमुख इस बच्चे की करेंगे आर्थिक मदद, कहा- जनता सत्ता का दिया दुख झेल रही है!

कोरोना संकट के बीच लगे लॉकडाउन में इस समय सबसे ज्यादा दोहरी मार मजदूरों पर पड़ी है. जिसकी वजह से उनका रोजगार खत्म हो गया है और मजदूर पलायन कर अपने घरों को लौट रहे है. ऐसे में तरह-तरह के आंखे नम कर देने वाली वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. जिसमें से एक वीडियों बच्चे के सूटकेस पर लेटते हुए मां के रस्सी से खींचने का है.

दरअसल, सोशल मीडिया पर एक बच्चे की वीडियो खूब तेजी से वायरल हो रही है. जिसमें बच्चा सूटकेस पर लेटा हुआ है और बच्चे की माँ सूटकेस को रस्सी से खींच रही है. इस तस्वीर ने सरकार के नाकामी का पूरा ठिकरा फोड़ दिया है. हालांकि इस वीडियो के वायरल होते ही सपा पार्टी के अध्यक्ष ने मदद का हाथ आगे बढ़ाया है. साथ ही बच्चे के भविष्य को देखते हुए एक लाख के आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है.

वहीं अखिलेश यादव ने बच्चे की मां के साथ वीडियो ट्वीट करते हुए कहा कि जिस मासूम को इतनी कम उम्र में ही इतनी भयावह परिस्थितियों से गुजरना पड़ा है, उसके जीवन में कुछ सकारात्मक घट सके… इस आशा के साथ हम इस बच्चे के माता-पिता तक 1 लाख रु की आर्थिक मदद पहुँचाएँगे. उन्होंने आगे जनता और मजदूरों की इस परिस्थिती का जिम्मेदार योगी और केन्द्र सरकार को मानते हुए लिखा कि जो जनता सत्ता का दिया दुख झेल रही है. वो जानती है कि ये बचपन का खेल नहीं है.

बता दें कि इससे पहले भी अखिलेश यादव ने दरभंगा की 15 साल की लड़की को एक लाख देने की घोषणा की थी. इस लड़की का नाम ज्योति है और ये वही लड़की हैं जिन्होंने अपने पिता मोहन पासवान को साइकिल पर बिठा कर हरियाणा के गुरुग्राम से अपने घर बिहार के दरभंगा तक पहुंचाया. ज्योति के इस जज्बे को पूरा देश सलाम कर रहा है. हालांकि इस बीच सरकार की सबसे बड़ी नाकामयाबी का चिट्ठा भी खुला है, जिसने देश को तार-तार कर दिया है.

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुक, ट्विटर और यू-ट्यूब पर जुड़ सकते हैं.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

रेल मंत्रालय की बड़ी लापरवाही, 40 श्रमिक ट्रेनों के रुट बदले, क्या है इसके पीछे की साजिश ?

By_Mahendra Yadav देश में 40 ट्रेनों के रास्ता भटक कर सैकड़ों मील दूसरे प्रदेशों तक जाना ग…