Home Gujarat सर कटा सकते हैं लेकिन बीजेपी को वोट नहीं कर सकते- हार्दिक पटेल
Gujarat - Social - State - November 12, 2017

सर कटा सकते हैं लेकिन बीजेपी को वोट नहीं कर सकते- हार्दिक पटेल

By- Aqil Raza

गुजरात में बीजेपी की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही है…गुजरात में पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि आगामी गुजरात विधानसभा चुनाव में बीजेपी को हराना पटेलों की पहली प्राथमिकता है। हार्दिक का कहना है कि आरक्षण आंदोलन के दौरान सत्तारूढ़ दल के पटेल समुदाय पर किए गए अत्याचारों का बदला लेने के लिए बीजेपी को गुजरात से हटाना है।

 

हार्दिक ने छोटा उदयपुर में शनिवार को एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘प्रदेश सरकार ने हमारे आत्मसम्मान को ठेस पहुंचाई है। इसलिए अब बीजेपी के खिलाफ लड़ाई समुदाय के सम्मान की लड़ाई होगी। वो समय आ गया है जब हम बीजेपी को गुजरात से बाहर का रास्ता दिखाएं। पाटीदारों के कोटा के लिए हम लड़ाई जारी रखेंगे और इस लड़ाई को दो-तीन वर्षों में जीत जाएंगे।’

हार्दिक ने कहा कि पाटीदार अपने सिर कटा देंगे लेकिन बीजेपी को सपोर्ट नहीं करेंगे। हार्दिक ने ये भी स्पष्ट किया कि मैं हमेशा से कहता आया हूं कि हम एक-दो साल में आरक्षण की लड़ाई जीत जाएंगे लेकिन हमारा वर्तमान लक्ष्य बीजेपी को ये सबक सिखाना है कि वो किसी के आत्मसम्मान को ठेस न पहुंचाएं।

आपको बता दें कि इससे पहले 8 नवंबर को पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के नेताओं और कांग्रेस के पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल के बीच आरक्षण की मांग को लेकर मीटिंग हुई थी। लेकिन इस मीटिंग में पाटीदार नेता हार्दिक पटेल नहीं पहुंचे थे।

आरक्षण की मांग पर कांग्रेस ने कहा था कि कानूनी लोगों की राय लेकर ही इस पर फैसला लेंगे। मीटिंग के बाद पटेल नेताओं ने मीटिंग को संतोषजनक बताते हुए कहा कि कांग्रेस के समर्थन को लेकर अंतिम फैसला हार्दिक से बात करने के बाद ही लिया जाएगा।

कांग्रेस को पाटीरदार नेता का सर्थन मिलता है या नहीं ये तो अभी साफ नहीं हो पाया है…लेकिन हार्दिक पटेल के फिलहाल के रवैय्ये ने ये साफ स्पष्ट कर दिया है की अगर बीजेपी पाटीदारों को जोड़ने के लिए कुछ हरकत करती है तो उसे मुंह की खानी पड़ेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

Remembering Maulana Azad and his death anniversary

Maulana Abul Kalam Azad, also known as Maulana Azad, was an eminent Indian scholar, freedo…