Home Social अयोध्या में राम मंदिर भले ही न बने पर मंदिर की तर्ज पर वहां का रेलवे स्टेशन बनायेगी सरकार
Social - State - Uttar Pradesh & Uttarakhand - February 21, 2018

अयोध्या में राम मंदिर भले ही न बने पर मंदिर की तर्ज पर वहां का रेलवे स्टेशन बनायेगी सरकार

By: Ankur sethi

नई दिल्ली। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण विवाद सुप्रीम कोर्ट में है. लेकिन सरकार चुनाव आने से पहले सोने के अंडे देने वाले इस मुद्दे को किसी भी हाल में भुनाना चाहेगी. चुनाव के ठीक एक वर्ष पहले ही सरकार ने अयोध्या में रेलवे स्टेशन को ही राम मंदिर की शक्ल देने का ऐलान किया है.

रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने घोषणा करते हुए कहा है कि अयोध्या के रेलवे स्टेशन का डिजाइन राम मंदिर जैसा ही होगा. उनके मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह की इच्छा के अनुसार इस तरह का डिजाइन बनाने का विचार किया गया है जिस पर मोहर लग चुकी है.

सिन्हा ने बताया, ‘प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा अध्यक्ष शाह का मानना है कि रामलला के दर्शन के लिए अयोध्या में पूरे देश भर से लोग आते हैं. इसीलिए रेलवे स्टेशन पर उतरते ही उन्हें यह अहसास होना चाहिए वे भगवान राम की जन्मभूमि में आए हैं. यही कारण है कि अयोध्या रेलवे स्टेशन का डिजाइन इस तरह का बनाने का विचार किया गया है. इसको लेकर रेल मंत्रालय जल्द ही केंद्रीय मंत्रिमंडल के सामने प्रस्ताव पेश करेगा.

ग़ौरतलब है कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए विश्व हिंदू परिषद 1980 के दशक में एक मॉडल तैयार किया था. उसी मॉडल को ध्यान में रखकर रेलवे स्टेशन का डिजाइन बनाया जा रहा है. बताया जाता है कि इस स्टेशन के निर्माण पर 80 करोड़ रुपए खर्च होंगे. इसमें सभी आधुनिक सुविधाएं होंगी. सिन्हा के मुताबिक रेलवे गुड्स वेयर हाउस भी अयोध्या लाया जा रहा है. इस पर 120 करोड़ रुपए का खर्च आएगा. उन्होंने यह भी बताया कि 1.116 करोड़ रुपए की लागत से फैज़ाबाद-बाराबंकी रेल मार्ग का दोहरीकरण और विद्युतीकरण किया जा रहा है और ये सभी काम 2021-22 तक पूरे हो जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

The Rampant Cases of Untouchability and Caste Discrimination

The murder of a child belonging to the scheduled caste community in Saraswati Vidya Mandir…