Home Language Hindi ‘गोली न मार दे सरकार, इसलिए खुद को बेड़ियों में जकड़कर पहुंचे हैं’, CAA का विरोध कर रहे पप्पू यादव बोले
Hindi - Political - Politics - Social - Uncategorized - December 19, 2019

‘गोली न मार दे सरकार, इसलिए खुद को बेड़ियों में जकड़कर पहुंचे हैं’, CAA का विरोध कर रहे पप्पू यादव बोले

देश के कई हिस्सों में नागरिकता संशोधित कानून (CAA) को लेकर जमकर विरोध प्रदर्शन हो रहा है। इस कानून के विरोध में बिहार के बाहुबली नेता और जन अधिकार पार्टी (जैप) के अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव भी शामिल हो गए हैं। पप्पू ने इस कानून के खिलाफ अपना विरोध कुछ अलग अंदाज़ में व्यक्त किया। वे खुद को बेड़ियों में जकड़कर सड़क पर प्रदर्शन करते नज़र आए। इस दौरान जब पप्पू से मीडिया ने पूछा कि वह बेड़ियों में खुद को जकड़कर प्रदर्शन क्यों कर रहे हैं। इसपर उन्होंने कहा कि सरकार कहीं गोली न मार से इसलिए ऐसे सड़कों पर उतरे हैं।

पप्पू यादव ने कहा कि केंद्र सरकार देश को टुकड़ों में बांट रही है। उन्होंने कहा कि संविधान की रक्षा और देश की अखंडता बरकरार रखने के लिए हम हर मोर्चे पर लड़ाई लड़ेंगे। बिहार बंद के दौरान पटना के राजेंद्र नगर, कंकड़बाग रोड में भी समर्थकों ने रोड जाम कर दिया। जन अधिकार पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से तस्वीर शेयर कर लिखा “पूरा बिहार सड़कों पर, एनआरसी-नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ बिहार बंद है।सुन लें नीतीश-मोदी-शाह आपका बैंड बजाने को जनता है तैयार। आपका हिन्दू-मुस्लिम का एजेंडा होने वाला है बेकार। अंग्रेजों से फूट डालो,शासन करो का जो गुरु मंत्र लिया है न,उसे हर हिन्दुस्तानी एकजुट हो खारिज कर देगा।”

सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर यादव ने बिहार बंद का आह्वान किया है। बिहार बंद में जाप के साथ-साथ विभिन्न वाम संगठन भाग ले रहे हैं। प्रवक्ता प्रेमचंद सिंह ने बताया कि गुरुवार को पूरा बिहार बंद रहेगा। छात्र नौजवान, महिलाएं और किसान सब मिल कर बिहार बंद करेंगें। जाप नेता राजेंद्र नगर रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों को रोकेंगे। छात्र नौजवान अशोक राजपथ से चलेंगे। नेटवर्क 18 की रिपोर्ट के मुताबिक जैप के कार्यकर्ताओं ने राजधानी पटना समेत विभिन्न इलाकों में जाकर दुकानों को जबरन बंद कराया। कार्यकर्ताओं ने वहां खड़े वाहनों को भी निशाना बनाया और तोड़ फोड़ की।

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुक, ट्विटर और यू-ट्यूब पर जुड़ सकते हैं.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

The Rampant Cases of Untouchability and Caste Discrimination

The murder of a child belonging to the scheduled caste community in Saraswati Vidya Mandir…