Home Language Hindi 1.5 लाख का चश्मा लगा मोदी ने देखा सूर्यग्रहण, कांग्रेस बोली- देश जलता रहे, अपना फ़ैशन चलता रहे
Hindi - Political - Politics - Social - December 27, 2019

1.5 लाख का चश्मा लगा मोदी ने देखा सूर्यग्रहण, कांग्रेस बोली- देश जलता रहे, अपना फ़ैशन चलता रहे

गुरुवार को 2019 का आखिरी सूर्य ग्रहण लगा। देश के कई हिस्सों में सूर्य ग्रहण का अद्भुत नजारा दिखा। लोगों ने गंगा में डुबकी भी लगाई। इस बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी सूर्य ग्रहण का दीदार किया। सूर्य का दीदार करते हुए मोदी ने ट्वीटर पर अपनी फोटो शेयर कीं। मोदी इस दौरान फॉर्मल कपड़े, लाल रंग का मफलर और काला चश्मा लगाए हुए थे। बताया जा रहा है कि मोदी का ये चश्मा डेढ़ लाख रुपये का है।

वैसे तो नरेन्द्र मोदी अपने आपको ‘फकीर’ कहते हैं, लेकिन वो 10 लाख का सूट पहनने के बाद अब डेढ़ लाख का चश्मा पहने हुए हैं। मोदी ने जो चश्मा पहना हुआ है वो जर्मनी की एक लक्जरी कंपनी ‘मायबाख’ का है। इस चश्मे की कीमत 21,59 डॉलर की है।

मोदी ने जो चश्मा लगाया हुआ है उससे मिलते-जुलते कंपनी की वेबसाइट कई चश्मे मौजूद हैं। इन चश्मों की कीमत 1955 डॉलर से शुरू है। जो चश्मा मोदी ने लगाया है वो वाकई में 15,5000 रुपये का है।

नरेन्द्र मोदी के इस चश्मे पर कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने ट्विटर पर लिखा- कौन सा नया है इनके लिए? जब देश ग़ुलामी से निकलने के लिए स्वतंत्रता की लड़ाई लड़ रहा था तब इनके पूर्वज अपने ब्रिटिश चाचाओं के साथ बाँसुरी और हारमोनियम बजाकर “हमका माफ़ी देही” गा रहे थे। उन्हीं पदचिन्हों पर PM साहब चल रहे हैं… “देश जले तो जलता रहे अपना फ़ैशन चलता रहे”-मोदी

दरअसल, बात प्रधानमंत्री मोदी के महंगे चश्मे की नहीं है बल्कि उनके दोहरेपन रवैए की है जो बोलते हैं। पीएम पहले से बोलते आए हैं कि, हम तो फ़कीर आदमी हैं, झोला उठाकर चल देंगे। तो क्या एक फ़कीर इतना महंगा विदेशी चश्मा पहन सकता है?

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुकट्विटर और यू-ट्यूब पर जुड़ सकते हैं.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

The Rampant Cases of Untouchability and Caste Discrimination

The murder of a child belonging to the scheduled caste community in Saraswati Vidya Mandir…