Home Social Politics कांग्रेस में चर्चा जोरों पर, राहुल गांधी फिर बनेंगे कांग्रेस अध्यक्ष !
Politics - June 26, 2020

कांग्रेस में चर्चा जोरों पर, राहुल गांधी फिर बनेंगे कांग्रेस अध्यक्ष !

70 साल तक देश की सत्ता पर काबिज रहने वाली कांग्रेस अब फिर से सत्ता में आने की कोशिश कर रही है। लेकिन कांग्रेस की कोशिश नाकाम जा रही है। तो वहीं एक बार फिर राहुल गांधी को कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने की मांग तेज होती जा रही है। बता दें की आज से ठीक सात साल पहले जनवरी 2013 में राजस्थान से राहुल गांधी की सियासी लॉन्चिंग हुई थी, उस समय जयपुर की कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाने का फैसला लिया गया था ।

लेकिन लोकसभा चुनाव में पार्टी की हार के बाद राहुल गांधी ने अपना अध्यक्ष पद छोड़ दिया था। लेकिन अब एक साल के बाद दोबारा से राहुल गांधी को कांग्रेस की कमान सौंपने की मांग राजस्थान से ही लगातार उठायी जा रही है।

राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने की चर्चा राजस्थान के पार्टी नेताओं की ओर से की जा रही है। पहले मंगलवार को कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राहुल गांधी को फिर से पार्टी अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपने की मांग उठाई। गहलोत की इस मांग का यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास ने समर्थन किया है। तो वहीं, अब राजस्थान के उप मुख्यमंत्री व प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने भी राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने की मांग की है।

बता दें कि बीते वर्ष लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी ने कांग्रेस को उसका खोया जनाधार वापस दिलाने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाया था। इसके बावजूद देश भर में कांग्रेस को महज 52 सीटें मिल सकीं। जिसके बाद राहुल गांधी ने हार की जिम्मेदारी लेते हुए कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने तब कहा था कि वो अध्यक्ष के रूप में काम नहीं करना चाहते लेकिन पार्टी के लिए काम करते रहेंगे। इसके बाद अगस्त 2019 में कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष के तौर पर फिर से सोनिया गांधी को कमान सौंप दी गई।

राहुल गांधी की सियासत के लिए राजस्थान खासकर जयपुर को अच्छा माना जाता है, उन्हें पार्टी का उपाध्यक्ष बनाने का फैसला भी जयपुर में ही लिया गया। जयपुर अधिवेशन में राहुल ने कांग्रेस संगठन चलाने की अपनी सोच को जाहिर किया था। तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस भी बीेजपी पर कोई तंज करने की कमी नहीं छोड़ रही है।

हालाकिं राहुल गांधी ने अपने भाषण में साफ तौर पर कहा था कि नेताओं को उनके प्रदर्शन के आधार पर जिम्मेदारी दी जाएगी। लेकिन अगर यहां से भी सब पास हो जाता है तो पूरी कहानी राहुल गांधी पर आके रूकगे क्योंकि राहुल गांधी ही फैसला लेंगे की उन्हे पद संभालना है या नहीं।

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुक, ट्विटर और यू-ट्यूब पर जुड़ सकते हैं.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

लालू यादव की हालत गंभीर, तेजस्वी समेत पूरा परिवार रांची पहुंचा..

राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की तबीयत बिगड…