Home International Political हरियाणा:गोपाल कांडा के केस में बुरी फंसी बीजेपी
Political - Politics - Uncategorized - October 26, 2019

हरियाणा:गोपाल कांडा के केस में बुरी फंसी बीजेपी

हरियाणा में विधायक गोपाल कांडा के बीजेपी को समर्थन देने के ऐलान के बाद सियासी घमासान जारी है. एक पूर्व एयरहोस्टेस को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोपी विधायक गोपाल कांडा द्वारा हरियाणा में भाजपा को समर्थन देने की पेशकश किए जाने के बीच कांग्रेस ने आरोप लगाया कि भगवा दल का ‘‘बेटी बचाओ गैंग’’ ‘‘निर्लज्ज’’ है .क्योंकि वह एक महिला वित्त मंत्री होने का दंभ भरता है. और उसके बाद ‘‘बलात्कारियों’’ को समायोजित करता है.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कांडा के मुद्दे पर भाजपा पर हमला किया. उन्होंने हैशटैग ‘नो टू कांडा’ के साथ ट्वीट किया, ‘‘पहले कुलदीप सेंगर, उसके बाद नित्यानंद और अब गोपाल कांडा .हर स्वाभिमानी भारतीय महिला को भाजपा और उसके नेताओं का बहिष्कार करना चाहिए अगर वे महिला सम्मान के बारे में बोलने की हिम्मत करते हैं. बता दें कि इस मामले में विवाद तब खड़ा हो गया जब कांडा ने मीडिया से कहा कि उन्होंने और सभी निर्दलीय विधायकों ने भाजपा को बिना शर्त समर्थन देने का निर्णय किया है.

महिला कांग्रेस प्रमुख सुष्मिता देव ने भाजपा प्रमुख अमित शाह को लिखे एक पत्र में कहा कि कांडा के साथ गठजोड़ न केवल भाजपा की महिला सुरक्षा के प्रति प्रतिबद्धता बल्कि उसकी नैतिकता पर भी सवाल खड़े करता है. उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किये गए पत्र में लिखा, ‘‘देश की बेटियां देख रही हैं कि आपके लिए क्या महत्वपूर्ण है.सत्ता या महिला सुरक्षा देव ने केंद्र की ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ योजना का उल्लेख करते हुए आरोप लगाया, ‘‘महिला कांग्रेस भाजपा के कांडा के साथ गठजोड़ की निंदा करती है. भाजपा बेटी बचाओ के नाम पर दोहरी बातें करके अपनी कथनी और करनी में अंतर रखती है.

इससे पहले कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला से कांडा के भाजपा को समर्थन दिये जाने के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘‘मेरा मानना है कि आपको नरेंद्र मोदी और अमित शाह के उस समय के बयानों को देखना चाहिए जब गोपाल कांडा हरियाणा में कांग्रेस सरकार में एक मंत्री थे और हमने एक मामला दर्ज होने के बाद उन्हें इस्तीफा देने के लिए बाध्य किया था और उन्हें मंत्री पद से हटा दिया था.’’ उन्होंने भाजपा पर ‘‘सत्ता की भूख’’ दिखाने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘‘उस समय भाजपा का क्या रुख था. और आज वह किस तरह की दोहरी बातें कर रही है.

गौरतलब है कि कांडा पर 2012 में एक पूर्व एयर होस्टेस ने उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए आत्महत्या कर ली थी. पुलिस ने अपनी जांच के दौरान कांडा पर एयरहोस्टेस से बलात्कार करने और उसे आत्महत्या के लिए उकसाने के भी आरोप लगाये. एयरहोस्टेस की मां ने भी बाद में अपना जीवन समाप्त कर लिया था. बाद में कांडा पर उसे भी आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया गया. मामला अदालत में है। बाद में कांडा के खिलाफ बलात्कार और अप्राकृतिक दुष्कर्म के आरोप हटा लिये गए तक़रीबन सात साल पहले गीतिका शर्मा नाम महत्वाकांक्षी युवती Suicide note मे लिखा कैसे एक बड़े प्रभावशाली व्यापारी और हरियाणा सरकार के मंत्री ने उसका Sexual Exploitation करके उसका जीना दूभर कर दिया था. इन सब तकलीफ़ों का अंत उसे आत्महत्या मे लगा और उसने अपने जीवन का अंत कर लिया हरियाणा में सरकार बनाने के लिए भाजपा आज इनके ही चरण में दंडवत लेटी हुई है .सबसे बड़ी बात ये है कि सिरसा की जनता ने कांडा को जिता कैसे दिया बडा सवाल वहां की जनता पर भी खड़ा होता है .

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुक, ट्विटर और यू-ट्यूब पर जुड़ सकते हैं.)


Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

The Rampant Cases of Untouchability and Caste Discrimination

The murder of a child belonging to the scheduled caste community in Saraswati Vidya Mandir…