ब्राउजिंग टैग

amit shah

JNU हिंसा: मोदी जी और शाह जी ने 90 साल बाद दिला दी नाजी शासन की याद

कांग्रेस ने गृह मंत्री अमित शाह पर जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में हमला करने वालों को संरक्षण देने का आरोप लगाया और कहा कि इस मामले की न्यायिक जांच होनी चाहिए. पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ''मोदी जी और अमित शाह जी ने छात्रों पर दमन चक्र चलाकर नाजी शासन की याद 90 साल बाद दिला दी. जिस तरह से छात्रों, छात्राओं और शिक्षकों पर हमला किया गया और जिस प्रकार पुलिस मूकदर्शक बनी रही, वह दिखाता है कि देश में प्रजातंत्र का शासन नहीं बचा है.'' उन्होंने कहा, ''युवा प्रजातंत्र और संविधान पर हमले

CAA पर BJP सांसद की धमकी- इस कानून को लागू नहीं करने वाले राज्यों में लगेगा राष्ट्रपति शासन

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर पहले ही बड़े पैमाने पर लोगों में भ्रम की स्थिति बनी हुई है. यही कारण है कि बीजेपी घर घर जाकर लोगों को जागरुक करने जा रही है. लेकिन वहीं दूसरी तरफ मध्य प्रदेश के होशंगाबाद से बीजेपी सांसद उदय प्रताप सिंह का चेतावनी देते हुए बयान सामने आया है जिसमें वो कह रहे हैं जो राज्य CAA लागू नहीं करेंगे वहां राष्ट्रपति शासन लगाया जा सकता है. उन्होंने कहा है कि संसद में कानून पास हुआ है राज्य सरकारें और नागरिक इसे मानने के लिए बाध्य हैं, अगर नहीं पालन होगा तो राष्ट्रपति शासन लगेगा. उन्होंने कहा, 'एक

पीएम मोदी और अमित शाह के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज, 1 फरवरी को अगली सुनवाई

रांची के एक वकील ने जिला अदालत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज करवाया है। वकील ने अपनी शिकायत में कहा है कि मोदी-शाह ने 2013-2014 में चुनावी कैंपेन के दौरान और बीजेपी के घोषणापत्र में जो वादे किए थे उन्हें पूरा नहीं किया है। वकील की शिकायत है कि प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और रामदास अठावले ने चुनावी रैलियों में झूठ बोला और आम जनता में झूठी आस जगाई।वकील का नाम एचके सिंह है। उन्होंने कहा है कि बीजेपी नेताओं ने प्रत्येक देशवासी के अकाउंट में 15 लाख रुपए देने की बात कही थी

दिल्ली के यूपी भवन पहुंचे छात्र और नेता सब गिरफ्तार, क्या विरोधियों को सबक सिखा रहे हैं शाह ?

उत्तर प्रदेश में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हुए हिंसक प्रदर्शनों के बाद प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारियों का सिलसिला जारी है। पुलिस प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार करने के लिए कथित तौर पर घरों पर दबिश दे रही है और प्रदर्शनकारियों के परिजनों से मारपीट और बदसलूकी कर रही है। पुलिस की इसी बर्बर कार्रवाई के ख़िलाफ़ शुक्रवार को जामिया यूनिवर्सिटी के साथ और भी कई यूनिवर्सिटीज़ के छात्र संगठनों ने दिल्ली स्थित यूपी भवन पर धरना प्रदर्शन का आयोजन किया। लेकिन पुलिस ने छात्रों को प्रदर्शन नहीं करने दिया। जो भी छात्र प्रदर्शन करने

देश में कोई डिटेंशन सेंटर नहीं है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह दावा कितना सच है?

BY: NAVAL KISHORE KUMAR कल एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश से झूठ बोला है। रामलीला मैदान में दिल्ली विधानसभा चुनाव अभियान की शुरुआत करते हुए उन्होंने कहा कि देश में कोई डिटेंशन कैंप नहीं है जहां उन लोगों को रखा जा रहा है जिनके पास भारतीय नागरिकता से संबंधित दस्तावेज नहीं हैं। मोदी ने यह भी कहा कि 2014 से लेकर अबतक उनकी सरकार ने किसी भी स्तर पर एनआरसी की बात नहीं कही है। असम में एनआरसी की चर्चा करते हुए उन्होंने यह जरूर कहा कि ऐसा सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर किया गया है। प्रधानमंत्री का झूठ बहुत देर तक नहीं

NRC और CAB को लेकर भारत बंद का ऐलान

नागरिकता कानून के खिलाफ देश के कई कोनों से विरोध की आवाजें आ रही हैं. दिल्ली, अलीगढ़, मुंबई, लखनऊ, बनारस समेत कई शहरों में प्रदर्शन किया जा रहा है. दिल्ली की जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में छात्रों और पुलिस की हिंसक झड़प के बाद देशभर के छात्रों ने जामिया स्टूडेंट्स को अपना समर्थन दिया है. वहीं, अमेरिका की 19 प्रतिष्ठित जिसमें हार्वर्ड और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने छात्रों को सपोर्ट कर कहा है कि इस बिल ने लोकतंत्र की अंर्त्मात्मा को झकझोंर दिया है.. वही आज नागरिकता कानून के खिलाफ देशभर के कई हिस्सों में प्रदर्शनों

जामिया यूनिवर्सिटी में भारी प्रदर्शन के बाद अब 5 जनवरी तक यूनिवर्सिटी बंद

15 दिसंबर यानि कि कल नागरिकता बिल के खिलाफ दिल्ली से लेकर अलीगढ़ तक जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला. पहले दिल्ली के कुछ इलाकों में प्रदर्शनकारी भीड़ ने डीटीसी बसों को आग लगा दी और कुछ गाड़ियों को भी फूंक दिया. इसके बाद जामिया यूनिवर्सिटी से भी पुलिस-छात्रों के भिड़ंत की खबरें आने लगीं. जामिया यूनिवर्सिटी का आरोप है कि पुलिस जबरदस्ती कैंपस में घुसी और छात्रों-कर्मचारियों को पीटा. फायरिंग करने के भी आरोप दिल्ली पुलिस पर लगाए जा रहे हैं. वहीं पुलिस का कहना है कि प्रदर्शनकारियों पर गोली नहीं चलाई गई. वही इस मामले में जामिया

NRC पर रवि किशन का संविधान विरोधी बयान

राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर छिड़ी बहस के बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद रविश किशन का विवादित बयान सामने आया है. उन्होंने कहा कि 100 करोड़ की हिंदू आबादी वाला हिंदुस्तान निश्चित रूप में हिंदू राष्ट्र है. बीजेपी सांसद ने ये बात बुधवार को संसद परिसर में मीडिया द्वारा नागरिकता संशोधन बिल से जुड़े एक सवाल के जवाब में कही. उन्होंने कहा, “यहां 100 करोड़ हिंदू आबादी है, तो हिंदुस्तान हिंदू राष्ट्र अपने आप ही है. जब इतने सारे मुसलमान देश हैं, जब इतने सारे इसाई देश हैं तो यह अद्भुत है कि हम लोगों का

झारखंड चुनाव सभा में कम भीड़ देख भड़के अमित शाह !

महाराष्ट्र में सरकार बनाने में नाकाम रही बीजेपी को अब झारखंड में भी बाज़ी पलटती नज़र आ रही है. बीजेपी को चुनाव से पहले ही हार का डर सताने लगा है. इसीलिए बीजेपी के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह खुलेआम अपनी रैली में ये कहते दिखाई दे रहे हैं कि वह इतनी भीड़ से नहीं जीत पाएंगे. दरअसल केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह झारखंड के चतरा में एक रैली को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं से कहा ये 10-15 हजार लोगों से हम जीत लेंगे क्या. मुझे भी गणित आता है मैं भी बनिया हूं बेवकूफ मत बनाओ आपको एक रास्ता बताता हूं. आप

पूरे देश में एनआरसी लागू होने पर राजनीतिक माहौल गरमाया!

नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन्स (NRC) के मुद्दे पर असम सरकार केंद्र की मोदी सरकार से सहमत नज़र नहीं आ रही. असम सरकार ने केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई NRC को स्वीकार नहीं करते हुए इसे रद्द किए जाने की मांग की है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को पूरे देश में लागू करने की बात कही है इस दौरान अमित शाह ने दावा किया कि धर्म के आधार पर कोई भेदभाव नहीं होगा. इस बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने अमित शाह के जवाब का पलटवार करते हुए लोगों को आश्वासन दिया है कि वह राज्य में इस तरह के नागरिक