ब्राउजिंग टैग

BHU

महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ में बहुजन छात्र संघ से अध्यक्ष पद प्रत्याशी अरविंद कुमार का नामांकन जुलूस

महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ वाराणसी में बहुजन छात्र संघ से अध्यक्ष पद के प्रत्याशी पद पर अरविंद कुमार के समर्थन में नामांकन जुलूस निकाला गया. विगत १९ नवम्बर को बहुजन छात्र संघ की वाराणसी इकाई के सचिव प्रदीप राजभर व अध्यक्ष जय प्रकाश गौतम जी ने अरविंद कुमार को प्रत्यासी घोषित किया. जल्द ही महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के छात्रों के हित में चुनावी घोषणा पत्र जारी किया जाएगा जिसमें विश्वविद्यालय को अकादमिक और मानक बनाए जाने पर जोर दिया जाएगा. आज का नामांकन जुलूस कचहरी वाराणसी स्थित बाबा साहब डॉ आंबेडकर की प्रतिमा से गाजे

बीएचयू में छात्रों पर हुए जानलेवा हमलें पर छात्रों ने लिखा गृहमंत्री को पत्र

यूपी के वाराणसी में काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में हाल ही में नियुक्तियों में एससी, एसटी और ओबीसी श्रेणी के नेट उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को अनारक्षित सीटों पर उनके श्रेणीगत नेट प्रमाणपत्र की वजह से अयोग्य ठहराए जाने का मामला सामने आया था. छात्रों ने इसका विरोध भी किया था जिसका भुगतान उन्हें करना पड़ रहा है.अभी तक ज्ञात कई विभागों में नियुक्ति हो चुकी है और अन्य विभागों में होती इसके पहले ही छात्रों की तरफ से हुए १२ घंटे के सतत आंदोलन की वजह से प्रक्रिया को मजबूरन प्रशासन द्वारा रोकना पड़ा. विगत एक वर्ष में काशी हिन्दू

BHU में फिर शुरू हो गया जातिवाद का खेल अनारक्षित पदों के लिए SC-ST-OBC के आवेदकों को ठहराया गया अयोग्य

वाराणासी: बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में फिर शुरू हो गया जातिवाद का खेल अनारक्षित पदों के लिए एससी-एसटी-ओवीसी के आवेदकों को ठहराया गया अयोग्य.हर हाल में कल के साक्षात्कार को रोकना होगा यदि हम संवैधानिक न्याय को सुनिश्चत करना चाहते है. असंवैधानिक कारनामा!बीएचयू के Performing Arts विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर नियुक्ति के इंटरव्यू में SC/OBC के कैंडिडेट को इसलिए अयोग्य करार दे दिया गया कि वो लोग अपने आरक्षित कोटे में UGC NET की परीक्षा उत्तीर्ण किये हैं। यह पूरी तरह अवैधानिक है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय और

बीएचयू में नाथू राम गोडसे के बहाने महात्मा गांधी का अपमान

वाराणसी। बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय का नाम शिक्षा को लेकर कम विवादों को लेकर अधिक सुर्खियों में आ रहा है. पूर्व में लड़कियों के साथ मारपीट का मामला सामने आया था तो अब राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और नाथू राम गोडसे से जुड़े एक विवादित नाटक के मंचन को लेकर विवाद शुरू हो गया है. इस मामले पर छात्र एक दूसरे के सामने आ गये हैं. मामला बढ़ने के बाद बात लंका थाने में पहुंच गई है. बीएचयू के दो छात्रों ने लंका थाने में शिकायत दर्ज कराते हुए इसे राष्ट्रपिता का अपमान बताया है. साथ ही बीएचयू कैंपस में आरएसएस की विचारधारा थोपने का आरोप लगाया…

BHU: पेपर में पूछे तीन तलाक, हलाला और पद्मावती पर सवाल, छात्रों ने लगाया विचारधारा थोपने का आरोप

बनारस हिंदू विश्विविद्यालय एक बार फिर विवादों में हैं। दरअसल एमए प्रथम सेमेस्टर के इतिहास के पेपर में ट्रिपल तलाक, हलाला और अलाउद्दीन खिलजी को लेकर सवाल किए गए। पेपर में इस तरह के सवाल पूछे जाने से छात्रों में आक्रोश है। छात्रों का आरोप है कि युनिवर्सिटी प्रशासन इस तरह के सवाल पूछ कर जबरदस्ती उन पर विचारधारा थोप रहा है, कोर्स से बाहर के यह सवाल जानबूझकर पेपर में शामिल किए गए हैं। पेपर में इस तरह से सवाल पूछे गए हैं कि इस्लाम में तीन तलाक और हलाला एक सामाजिक बुराई है इसकी व्याख्या कीजिए। इसी प्रश्नपत्र के सेक्शन बी में रानी…

पीएम मोदी के बनारस दौरे से पहले BHU की छात्राओं ने क्यों किया बड़ा प्रोटेस्ट ?

बनारस में एक तरफ देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बनारस के दौरे पर हैं तो वहीं दूसरी तरफ बीएचयू में छात्राएं पीएम मोदी और बीएचयू प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर रही हैं. छेड़खानी के विरोध में बीएचयू की छात्राओं ने कॉलेज प्रशासन औऱ बीजेपी सरकार के खिलाफ बड़ा प्रोटेस्ट किया. छात्रों ने इंसाफ की मांग करते हुए नारेबाजी की। बताया जा रहा है कि कॉलेज के बाहर और कैंपस में छात्राओं को छेड़खानी का सामना करना पड़ता है. प्रशासन से शिकायत के बावजूद भी न ही तो वीसी औऱ न ही विश्वविद्यालय के किसी अधिकारी ने कोई एक्शन लिया है। छात्रों ने…