ब्राउजिंग टैग

GOVT OF BJP

हैदराबाद केस में जश्न मनाने वाले कही गलत तो नही !

11 दिन से उबलता हैदराबाद अब शांत हो गया है. क्या सच में हैदराबाद पीड़िता को इंसाफ मिल गया. क्या एनकाउटर में मारे गए चारों आरोपी ही असली दोषी थे. खैर पुलिस किसी को बचाने और अपनी नाकामी छिपाने के लिए किसी बी हद तक जा सकती है. अगर सच में असली दोषी वहीं थे. तो बाकी सब मामलों में भी पुलिस कोर्ट कचहरी के चक्कर में नहीं पड़ना चाहिए. सबका एनकाउंटर कर अदालत का किमती वक्त बचाने के आलावा हर रेप पीड़िता को त्वरित इंसाफ मिल जाए. मुझे तो पुरी कहानी किसी फिल्म की तरह पहले से स्कीरिपटेड लगती है. जहां किसी रसूखदार को बचाने के लिए पुलिस किसी

उन्नाव रेप पीड़िता को न्याय दिलवाने के लिए 9 दिसम्बर को मैदान में उतरेंगे भीम आर्मी!

एक तरफ बलात्कार की घटनाओं ने देश को झकझोर कर रख दिया है. हैदराबाद में एक बेटी से बलात्कार करने के बाद जलाकर हत्या करने के बाद. उन्नाव की बेटी ने भी शुक्रवार देर रात इस दुनिया को अलविदा कह दिया. लेकिन ये सभी घटनाएं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बेचैन क्यों नहीं कर रही हैं. दूसरे देशों के राष्ट्राध्यक्षों को जन्मदिन और चुनाव जीतने तक पर बधाई देने वाले मोदी ने इन बेटियों से बलात्कार और उनकी जलाकर हत्या करने वाली घटनाओं पर अभी तक कोई ट्वीट नहीं किया है. उन्नाव रेप पीड़िता की दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई. इतनी

वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने प्याज की कीमतों को लेकर निर्मला सीतारमण पे साधा निशाना

वित्त मंत्री के इस बयान पर राजनीतिक में घमासान यूध्द छिड़ गया है और 106 दिन बाद जेल से बाहर आए पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने उनपर अपना करारा वार किया है. प्याज की कीमतों को लेकर पूरे देश भर में मचा हाहाकार है लेकिन वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का कहना है कि वह प्याज़ नहीं खाती हैं इसलिए उन्हें फर्क नहीं पड़ता है. वित्त मंत्री के इस बयान पर राजनीतिक घमासान छिड़ गया है और इसी को लेकर 106 दिन बाद जेल से बाहर आए पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने उनपर करारा वार किया है. गुरुवार को संसद भवन पहुंचे पी. चिदंबरम ने कहा जो

मनमोहन सिंह ने अर्थव्यवस्था की स्थिति को क्यों बताया बेहद चिंताजनक

देश की अर्थव्यस्था पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने देश की सकल घरेलू उत्पाद जीडीपी की 4.5 प्रतिशत की वृद्धि दर को नाकाफी और चिंताजनक बतायाऔर अर्थव्यवस्था पर एक राष्ट्रीय सम्मेलन में अपना विदाई भाषण देते हुए सिंह ने कहा कि अर्थव्यवस्था की स्थिति बेहद चिंताजनक है लेकिन मैं यह भी कहूंगा कि हमारे समाज की स्थिति ज्यादा चिंताजनक है. उन्होंने कहा शुक्रवार को सामने आए जीडीपी के आंकड़े 4.5 प्रतिशत के न्यूनतम स्तर पर है. यह साफ तौर पर अस्वीकार्य है. देश की आकांक्षा 8-9 प्रतिशत की वृद्धि दर है. पहली तिमाही की 5.1 प्रतिशत जीडीपी

बीजेपी पर लगा चंदा लेने का आरोप, ‘टेरर फंडिंग’ के मामले पर ईडी की चल रही जांच?

बीजेपी पर एक ऐसी कंपनी से चंदा लेने के आरोप लग रहे हैं. जिस पर टेरर फंडिंग के मामले में प्रवर्तन निदेशालय ईडी की जांच चल रही है. बीजेपी को जिस आरकेडब्ल्यू डेवलपर्स लिमिटेड नाम की कंपनी ने सबसे बड़ा चंदा दिया है उसकी टेरर फंडिंग मामले में जांच चल रही है. इस कंपनी पर आरोप है कि 1993 में हुए मुंबई बम धमाकों की आरोपी इकबाल मेमन उर्फ इकबाल मिर्ची से इसके संपत्ति खरीदने और लेनदेन के रिश्ते हैं. इस मामले पर खुलासा करते हुए रोहिणी सिंह द वायर पर लिखती हैं बीजेपी को सबसे ज्यादा चंदा देने वाली कंपनी आरकेडब्ल्यू डेवलपर्स लिमिटेड की

रक्षा मंत्रालय की संसदीय समिति में साध्वी प्रज्ञा के शामिल होने पर विपक्षियों ने जताया विरोध

मालेगांव बम धमाकों की आरोपी और मध्य प्रदेश के भोपाल से बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर को रक्षा मंत्रालय की संसदीय समिति के लिए नामित किया गया और उन्हें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अगुवाई में बनी इस कमेटी का सदस्य बनाया गया है. 21 सदस्यों की इस कमेटी में मीनाक्षी लेखी, सुप्रिया सुले, शरद पवार, ए राजा और फारुख अब्दुल्ला समेत विभिन्न दलों के सांसद शामिल हैं लेकिन सबसे ज्यादा विवाद भोपाल से बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर की सदस्यता पर हो रहा है. सवाल उठ रहे हैं कि जो शख्स खुद किसी आतंकी घटना में शामिल होने का आरोपी हो वो देश की

जेएनयू आपको थोड़ा और संवेदनशील मनुष्य बनाता है!

दिल्ली के जाने-मानेविश्विद्यालय में फीस वृद्धि को लेकर जेएनयू छात्रों ने विरोध प्रदर्शन कर रहे है. वही जेएनयू छात्र जयंत जिज्ञासु ने खत लिखा मुझे 5000 की फ़ेलोशिप मिलती है. रहने का खर्च लगभग नगण्य है. हॉस्टल में तीन वक़्त के भोजन पर 22-24 सौ रुपये खर्च होते हैं. हज़ार रुपये दोस्तों के साथ चाय-नाश्ते पर पांच सौ के आसपास यातायात पर और हज़ार रुपये कलम-काग़ज़-किताब पर. दोस्त अगर साथ लेकर चल पड़े तो कपड़े साल में एकाध बार ख़रीद लिए तो ठीक ही काम चल जाता है. साइकिल से चलता हूँ इसका अपना ही आनंद है. पिताजी मिड्ल स्कूल के टीचर के रूप में

मुस्लिम पक्ष का ऐलान, अयोध्या पर दोबारा हो फैसला ?

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ रिव्यू पीटिशन को लेकर मुस्लिम पक्ष दो धड़ों में बंट गया है. मामले में पक्षकार रहे सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने रविवार 17 नवंबर को हुई बैठक में रिव्यू पीटिशन दाखिल करने से साफ इनकार कर दिया. दूसरी ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड एआईएमपीएलबी ने रविवार को फैसला किया कि वह अयोध्या जमीन विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को चुनौती देते हुए पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगा. और उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एआईएमपीएलबी की बैठक में यह फैसला लिया गया. कि एआईएमपीएलबी ने कहा कि

अयोध्या केस पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना आखिरी फैसला सुनाया !

सुप्रीम कोर्ट की 5 जजों की पीठ ने आज 9 nov 2019 को अयोध्या केस पर फैसला सुनाया. चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने 45 मिनट तक फैसला पढ़ा और कहा कि मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट बनाया जाए और इसकी योजना 3 महीने में तैयार की जाए. कोर्ट ने 2.77 एकड़ की विवादित जमीन रामलला विराजमान को देने का आदेश दिया और कहा कि मुस्लिम पक्ष को मस्जिद निर्माण के लिए 5 एकड़ वैकल्पिक जमीन आवंटित की जाए. वहीं वरिष्ठ पर्कार प्रोफेसर दिलीप मंडल ट्विटर पर लिखते हैं कि . आज मंदिर की बात न करें. मंदिर उनका एजेंडा है. उनके मैदान में न खेलें. न पक्ष में, न विपक्ष