ब्राउजिंग टैग

muslim

हम हिन्दू बाई चांस इस देश में रहे लेकिन मुस्लिमों ने बाई चॉइस इस मुल्क को पसंद किया : हर्ष मंदर

नागरिकता संशोधन बिल के पास हो जाने से देश के सभी इलाकों में लोग विरोध प्रदर्शन कर रहें है। एक ओर जहां सरकार इसके फ़ायदे की दलीले संसद के दोनों सदनों गिना रही है। वहीं इसके खिलाफ लोग सड़क पर पुरजोर विरोध कर रहे हैं। इस बिल के खिलाफ दिल्ली के जंतर-मंतर पर रोज़ भारी तादाद में लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। आज ‘नॉट इन माय नेम’ समूह द्वारा आयोजित प्रदर्शन में हज़ारों की संख्या में लोग इक्क्ठा होकर इस बिल के खिलाफ प्रदर्शन किया। वहीं इस प्रदर्शन में आए लेखक और मानवाधिकार कार्यकर्ता हर्ष मंदर ने मोदी सरकार के इस बिल को संविधान

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर का अपनी पार्टी बनाने का एलान, दिल्ली चुनाव लड़ेंगे

भीम आर्मी चीफ रावण चंद्रशेखर आजाद ने अब पूरी तरह से राजनीति में उतरकर चुनाव लड़ने का फैसला ले लिया है. जल्द ही वो अपनी पार्टी के नाम का एलान करने वाले हैं. अभी तक भीम आर्मी बीएसपी को राजनीतिक विकल्प के तौर पर समर्थन देती थी लेकिन नागरिकता संशोधन बिल पर बीएसपी पार्टी के रुख से आहत होकर चंद्रशेखर ने अपने खुद के राजनीतिक दल का एलान किया है. उन्होंने बताया कि वह आगामी दिल्ली विधानसभा में अपने उम्मीदवार उतारेंगे. इसके बाद यूपी में पंचायत चुनाव और विधानसभा चुनाव लड़ेंगे.आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव में चंद्रशेखर की पार्टी अधिक से

संसद से CAB पास होने पर नाराज IPS अफसर ने दिया इस्तीफा, SC,ST,OBC और मुस्लिम समुदाय के लोग करें विरोध, SC भी पहुंचें

महाराष्ट्र कैडर के आईपीएस ऑफिसर अब्दुर्रहमान ने बुधवार (11 दिसंबर, 2019) को नागरिकता संशोधन बिल, 2019 राज्यसभा में पास होने के विरोध में अपने पद से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने ने कहा कि सांप्रदायिक और असंवैधानिक” नागरिकता (संशोधन) विधेयक” के खिलाफ विरोध दर्ज कराते हुए सेवा से इस्तीफा देने का फैसला किया है। बिल लोकसभा में पहले ही पास हो चुका है। मुंबई में विशेष पुलिस महानिरीक्षक (आईजीपी) के रूप में तैनात अब्दुर्रहमान ने बयान जारी कर कहा कि वह गुरुवार यानी आज से कार्यालय नहीं जाएंगे। अब्दुर्रहमान ने कहा, “यह विधेयक भारत के

मुस्लिम पक्ष का ऐलान, अयोध्या पर दोबारा हो फैसला ?

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ रिव्यू पीटिशन को लेकर मुस्लिम पक्ष दो धड़ों में बंट गया है. मामले में पक्षकार रहे सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने रविवार 17 नवंबर को हुई बैठक में रिव्यू पीटिशन दाखिल करने से साफ इनकार कर दिया. दूसरी ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड एआईएमपीएलबी ने रविवार को फैसला किया कि वह अयोध्या जमीन विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को चुनौती देते हुए पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगा. और उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एआईएमपीएलबी की बैठक में यह फैसला लिया गया. कि एआईएमपीएलबी ने कहा कि

अयोध्या जन्मभूमि विवाद पर आज फैसला हुआ खत्म!

अयोध्या राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद पर 5 जजों की अगुवाई में आज बड़ा फैसला सुना दिया है. शिया वक्फ बोर्ड और निर्मोही अखाड़े के दावे को खारिज कर दिया गाया है. सुन्नी वक्फ बोर्ड को मस्जिद के लिये किसी मुनासिब जगह पर पांच एकड़ जमीन दी जाए. केंद्र और उप्र सरकार के साथ मिलकर 2.77 एकड़ जमीन को राममंदिर निर्माण के लिए प्राधिकार को तीन महीने तक का आदेश दिया हैं. वही इतिहासकारों के मुताबिक सन् 1526 में बाबर इब्राहिम लोदी से जंग लड़ने भारत आया था. बाबर के सूबेदार मीरबाकी ने 1528 में अयोध्या में मस्जिद बनवाई. बाबर के सम्मान

महाराष्ट्र: ईवीएम की ख़राबी से जनता में रोष, कांग्रेस ने कि EC से शिकायत

महाराष्ट्र में ईवीएम की ख़राबी के चलते कई जगह लोगों को मतदान देने मे हुई परेशानी वही लोगों ने कांग्रेसी चुनाव आयोग से कि शिकायत .महाराष्ट्र के रत्नागिरि और भंडारा जिले में सोमवार को कुछ बूथों पर ईवीएम में खराबी के चलते मतदान में देरी हुई.और वही एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. कि उन्होंने बताया कि तकनीकी खराबी के चलते मुंबई में वर्ली इलाके के एक बूथ पर भी मतदान कुछ देर के लिए प्रभावित कर दिए. दरहसल राज्य कांग्रेस इकाई ने भी चुनाव आयोग को इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में खराबी की 187 शिकायतें भेजी हैं. वही हम अपको बता दे

नसीमुद्दीन तो बहाना है असल में काग्रेंस को बहुजन-मुस्लिम गठजोड़ पर निशाना लगाना है

By: Ankur sethi मेरठ :बीएसपी के पूर्व कद्दावर नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी के काग्रेंस में शामिल होने की पुष्टी हो गई. असल में कांग्रेस पार्टी तीन दशक पुराने बहुजन-मुस्लिम जातीय गठजोड़ को दोहराने का सपना सजो रही है। कांग्रेस जिग्नेश मेवाणी और भीम आर्मी के बहाने बहुजनों का साथ हासिल करने के लिए हाथ पैर मार रही है। वहीं नसीमुद्दीन के बहाने सूबे में मुस्लिमों को जोड़ने का प्लान है। कांग्रेस की जनाधार वाले नेताओं को साथ जोड़ने की यह मुहिम 2019 में बीजेपी से मुकाबले के मद्देनजर देखी जा रही है। गुरुवार को सिद्दीकी दिल्ली में राहुल…