ब्राउजिंग टैग

OBC

अगर कोई CAA के खिलाफ प्रदर्शन करता है तो उसे बहुजन विरोधी घोषित कर देना चाहिए: नित्यानंद राय

केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय ने कहा है कि संशोधित नागरिकता कानून का विरोध करने वालों को ओबीसी और बहुजन विरोधी घोषित कर देना चाहिए। गृह राज्य मंत्री राय ने कहा कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में उत्पीड़न के कारण वहां से आने वाले लोगों में ज्यादातर अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) और बहुजन वर्ग से हैं। उन्हें सम्मान देने के लिए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी सीएए लेकर आए हैं। केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय ने कहा है कि संशोधित नागरिकता कानून का विरोध करने वालों को ओबीसी और बहुजन विरोधी घोषित कर देना चाहिए। गृह राज्य मंत्री

डॉ बाबासाहब और ओबीसी का रिश्ता ?”

इस देश में ओबीसी का 'संवैधानिक जन्मदाता' और 'संवैधानिक रखवाला' कोई और नहीं बल्कि " बाबासाहब डॉ आंबेडकर'' ही हैं ! 1928 में बाम्बे प्रान्त के गवर्नर ने 'स्टार्ट' नाम के एक अधिकारी की अध्यक्षता में पिछड़ी जातियों के लिए एक कमिटी नियुक्त की थी. इस कमिटी में डॉ. बाबा साहेब आम्बेडकर ने ही शूद्र वर्ण से जुडी जातियों के लिए " OTHER BACKWARD CAST " शब्द का सर्वप्रथम उपयोग किया था, इसी शब्द का शार्टफॉर्म ओबीसी है !! जिसको सामाजिक और शैक्षिक रूप से पिछड़ी हुई जाति के रूप में आज हम पहचानते है और उनको पिछड़ी जाति या ओबीसी कहते

उत्तराखंड के खटीमा में छात्रवृत्ति न मिलने पर फूटा बहुजन छात्रों का गुस्सा

खटीमा। बहुजन छात्रों के साथ ज्यादती की खबरें हर ओर से आ रही हैं चाहे वह महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश हो या बिहार। कई राज्यों में Sc,st, obc छात्रों को लंबे समय से छात्रवृत्ति नहीं दी जा रही जिससे सरकार की मंशा साफ हो जाती है कि वह उन्हें अपने फंड से आगे नहीं बढने देना चाहती। ताजा मामला उत्तराखंड के खटीमा का है जहाँ के HNB महाविद्यालय में एससी, एसटी और ओबीसी छात्रों को छात्रवृत्ति न मिलने पर तहसील में उनका गुस्सा फूट पड़ा। सोमवार को छात्र संघ के महासचिव प्रियम पांडेय छात्र-छात्राओं के साथ तहसील पहुंचे और जोरदार प्रदर्शन किया। बाद…

SC, ST और OBC समुदाय के लिए दिलीप मंडल की कड़वी सलाह

By: दिलीप मंडल मेरी एक सलाह है SC, ST और OBC के बुद्धिजीवियों और बन रहे बुद्धिजीवियों से. इन समाजों के तमाम प्रोफेशनल्स और बडिंग प्रोफेशनल्स से. कृपया कोई क्रांतिकारिता न दिखाएं. अपने प्रोफेशन पर, अपने काम पर फोकस करें. अपने काम में बेहतर करें. पैसा कमाएं. तरक्की करें. मालूम है कि इन समाजों के लोगों के लिए यह मुश्किल है. कठिन है आपके लिए तरक्की करना. पर कोशिश करें. आपका कोई बाप ऊपर के पदों पर तो है नहीं. आप गिरेंगे, तो आपको संभालने वाला कोई नहीं होगा. इसलिए संभलकर चलें. आप गिरेंगे तो सवर्ण तो हंसेगा ही. आपका अपना समाज भी…