Home Uncategorized फिर उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां, ऐसे कैसे भागेगा कोरोना ?
Uncategorized - May 15, 2020

फिर उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां, ऐसे कैसे भागेगा कोरोना ?

कोरोना वायरस को लेकर सरकार लगातार सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों की लोगों से पालन करने की मांग कर रही है।लेकिन कई जगह ऐसी है जहां सरकार की इस मांग को ताक पर रखकर धज्जियां उड़ाई जा रही है।दराअसल ऐसा ही एक मामला कर्नाटक से सामने आया है जहां देश में कोरोना संक्रमण लगातार तेजी से बढ़ रहा है, इसके बावजूद लोगों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है।

कर्नाटक में भी ऐसा ही नजारा देखने को मिला, जहां बड़ी संख्या में लोग एक धार्मिक आयोजन के लिए इकट्ठा हुए और सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ायीं। गौरतलब बात ये है कि धार्मिक आयोजन में हिस्सा लेने वाले सभी लोग पंचायत विकास अधिकारी से इजाजत लेकर इस कार्यक्रम में शामिल हुए थे। बाद में प्रशासन ने इस पर कड़ा रुख अपनाते हुए इजाजत देने वाले अधिकारी को सस्पेंड कर दिया।

लेकिन इससे ये सवाल उठता है की अधिकारियों ने इस आयोजन को मनाने की क्यों इजाजत दी।अगर अधिकारी ही सरकार के वादों और नियमों को ताक पर रखकर इसका मजाक बना रहे है तो फिर तो ये देश कोरोना मुक्त नहीं होता।जो अधिकारी सरकार के आदेशों की धज्जयां उड़ा रहें है वो पीएम का क्या आदेश मानेंगे।जहां एक तरफ गरीब मजदूर घर पहुंचने के लिए जी तोड़ कोशिश कर रहा है तो वहीं दूसरी तरफ उड़ रही सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां ये साफ करती है की हालात आगे और बिगड़ेंगे।

जानकारी के लिए बता दें की ये पूरी मामला कर्नाटक के रामनगर इलाके के कोलागोंडनहल्ली गांव का है। जहां एक धार्मिक मेले का आयोजन हुआ था। पंचायत विकास अधिकारी से इजाजत लेकर बड़ी संख्या में लोग इस मेले में शामिल हुए। कोरोना माहमारी के बावजूद मेले में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का ध्यान नहीं रखा गया और मेले में जमकर भीड़ लगी।वहीं जब इसकी सूचना उच्च अधिकारियों को हुई तो तहसीलदार की रिपोर्ट के आधार पर रामनगर के डिस्ट्रिक्ट कमिश्नर ने लोगों को मेले में शामिल होने की इजाजत देने वाले पंचायत विकास अधिकारी एनसी कलमत्त को सस्पेंड कर दिया है।

बता दें कि धार्मिक आयोजन के चलते सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ने की यह कोई पहली घटना नहीं है। पहले दिल्ली के भी कई इलाकों से सोशल डिस्टेंसिंग के पालन ना होने की खबर सामने आई जिसकी वजह से कोरोना संक्रमण फैला।जिसपर केजरीवाल ने भी संज्ञान लेने की बात कही थी।साथ ही वहीं हाल ही में मध्य प्रदेश के सागर जिले में जैन संत के स्वागत के लिए लोगों का ऐसा जनसैलाब उमड़ा कि इस दौरान भीड़ ने सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ायीं। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है और कार्यक्रम के आयोजकों के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश दिया जाएगा।

अगर देखा जाए तो हालात दिन पर दिन बिगड़ते जा रहें है।और लगातार सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों की धज्जियां उड़ने की खबर सामने आ रही है।अगर देश को वाकई कोरोना मुक्त बनाना है और इस देश से कोरोना को भगाना है तो नियमों का पालन करना होगा।और सुस्त बैठी सरकार को भी संज्ञान लेना होगी की जो लोग और अधिकारी ऐसा कर रहें है उनके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाए।जिससे जल्द से जल्द इस वायरस पर काबू किया जा सके।

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुक, ट्विटर और यू-ट्यूब पर जुड़ सकते हैं.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

तो क्या दीप सिद्धू ही है किसानों की रैली को हिंसा में तब्दील करने वाला आरोपी ?

गणतंत्र दिवस पर किसान संगठनों की ओर से निकाली गई ट्रैक्‍टर रैली ने मंगलवार को अचानक झड़प क…