Home Uncategorized मेट्रो में सफर करने से पहले इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो चुकानी पड़ेगी कीमत !
Uncategorized - September 7, 2020

मेट्रो में सफर करने से पहले इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो चुकानी पड़ेगी कीमत !

कोरोना संकट के बीच 169 दिन के बाद दिल्ली मेट्रो चली, आज यानी 7 सितंबर से सिर्फ येलो लाइन (समयपुर बादली से हुडा सिटी सेंटर) शुरू हुई। सुबह 7 बजे से हुडा सिटी सेंटर से समयपुर बादली के लिए मेट्रो रवाना हुई। इससे दिल्लीवासियों को एक राहत मिली है, लेकिन इसमें भी यात्रा करने के कई नियम लागू किए हैं। दिल्ली में करोना वायरस दिन पर दिन फैलता जा रहा है. ऐसे में प्रशासन तमाम तरह की सावधानी बरत रहा है।

मेट्रो में सफर करते समय यात्रियों को कई खास बातों का ध्यान रखना होगा। दिल्ली सरकार ने स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर तैयार किया है। तमाम प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए मेट्रो का परिचालन किया गया है, जिससे यात्रियों को किसी तरह की कोई दिक्कत न हो।

जानकारी के लिए बता दें की मेट्रो स्टेशन के बाहर, एंट्री से पहले सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई है। यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है, टोकन के इस्तेमाल पर पूरी तरह से रोक है. इससे वायरस के फैलने का खतरा ज्यादा है। मेट्रो कार्ड इस्तेमाल करने वाले यात्रियों को ही सफर की इजाजत है।

साथ ही साथ टिकट काउंटर पर स्मार्ट कार्ड या मेट्रो कार्ड खरीदे जा सकते हैं। मेट्रो कोच के अंदर एक मीटर की दूरी पर बैठना जरूरी होगा, साथ ही मेट्रो कोच के अंदर एयर कंडीशन कंट्रोल किया जाएगा। नई गाइडलाइन्स के तहत एसी में ताजी हवा की मात्रा ज्यादा होगी।

मेट्रो स्टेशन, प्लेटफॉर्म और मेट्रो कोच के अंदर भीड़ न हो, इसलिए मेट्रो स्टाफ, पुलिस और सिविल डिफेंस वॉलंटियर्स की तैनाती होगी। मेट्रो में एंट्री के समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन और मास्क पहनना अनिवार्य होगा, ऐसा न करने पर मेट्रो अधिकारियों या पुलिस को फाइन लगाने का अधिकार है। इसके अलावा सिविल वॉलंटियर्स की मदद से भीड़ को कंट्रोल किया जाएगा।

इसके अलावा थर्मल स्क्रीनिंग के दौरान यात्री का तापमान अधिक पाए जाने पर, दिल्ली मेट्रो में सफर करने की अनुमति नहीं मिलेगी। वहीं कंटेनमेंट जोन में मेट्रो स्टेशन नहीं खोले जाएंगे और न ही बंद स्टेशन पर मेट्रो रुकेगी।

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुक, ट्विटर और यू-ट्यूब पर जुड़ सकते हैं.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

तो क्या दीप सिद्धू ही है किसानों की रैली को हिंसा में तब्दील करने वाला आरोपी ?

गणतंत्र दिवस पर किसान संगठनों की ओर से निकाली गई ट्रैक्‍टर रैली ने मंगलवार को अचानक झड़प क…