Home Uncategorized लखीमपुर खीरी में नाबालिग से रेप की दूसरी घटना, क्षत विक्षत कर शव को तालाब में फेंका
Uncategorized - August 28, 2020

लखीमपुर खीरी में नाबालिग से रेप की दूसरी घटना, क्षत विक्षत कर शव को तालाब में फेंका

उत्तर प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ अपराध थमने का नाम नहीं ले रहे हैं और लखीमपुर खीरी में एक बार फिर नाबालिग से रेप और उसकी नृशंस हत्या का मामला सामने आया है।17 वर्षीय पीड़िता का शव मंगलवार सुबह बरामद हुआ और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद रात को पुलिस ने रेप की पुष्टि की। अभी तक किसी भी आरोपी की पहचान नहीं हो सकी है और पीड़ित परिवार ने भी किसी पर शक होने से इनकार किया है।

दराअसल पूरा मामला लखीमपुर खीरी के धवरपुर गांव का है। पीड़िता के परिजनों के अनुसार, वह सोमवार सुबह एक फॉर्म भरने के लिए पास के कस्बे के एक साइबर कैफे गई थी। लेकिन जब वह वापस नहीं आई तो परिवार ने पुलिस को इसके बारे में सूचित किया।

वहीं इस मामले को लेकर लड़की के चाचा ने कहा, “मैं वास्तव में नहीं जानता कि क्या कहूं और किस पर शक करूं। वह सोमवार को सुबह करीब 8:30 बजे गई थी। हमें किसी पर शक नहीं है।”पुलिस की छानबीन के बाद मंगलवार सुबह गांव से 200 मीटर दूर स्थित एक सूखे तालाब के पास पीड़िता का क्षत-विक्षत शव मिला। पुलिस के अनुसार, उसकी धारदार हथियार से हत्या की गई थी और उसकी गर्दन पर चोट के निशान थे।

पीड़िता के कपड़े अस्त-व्यस्त थे और जब उसके शव का पोस्टमार्टम कराया गया तो रेप की पुष्टि हुई। पुलिस ने मंगलवार रात हत्या से पहले पीड़िता का रेप किए जाने की पुष्टि की। जिसके बाद पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

बता दें कि लखीमपुर खीरी में पिछले 10 दिन में रेप के बाद किसी नाबालिग की हत्या का ये दूसरा मामला है। इससे पहले 15 अगस्त को इलाके के पकरिया गांव में 13 वर्षीय बच्ची की रेप के बाद हत्या का मामला सामने आया था।पीड़िता के पिता ने उसकी आंखें बाहर निकालने और जीभ काटने का आरोप लगाया था, हालांकि पुलिस ने अपने बयान में इन दोनों आरोपों को खारिज किया।

लेकिन महिलाओं के साथ बढ़ रही घटनाएं ये साफ कर रही है की सरकार की मंशा क्या है। लेकिन अब ये आने वाला समय बताएगा की महिलाओं के साथ बढ़ रहा अत्याचार कब रूकेगा।

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुक, ट्विटर और यू-ट्यूब पर जुड़ सकते हैं.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

तो क्या दीप सिद्धू ही है किसानों की रैली को हिंसा में तब्दील करने वाला आरोपी ?

गणतंत्र दिवस पर किसान संगठनों की ओर से निकाली गई ट्रैक्‍टर रैली ने मंगलवार को अचानक झड़प क…