Home Uncategorized हाथरस मामले को लेकर कोर्ट ने लगाई योगी सरकार को फटकार, CBI करेगी क्राइम सीन का मुआयना !
Uncategorized - 2 weeks ago

हाथरस मामले को लेकर कोर्ट ने लगाई योगी सरकार को फटकार, CBI करेगी क्राइम सीन का मुआयना !

हाथरस गैंगरेप कांड को लेकर अब एक्शन होना शुरू हो गया है, सोमवार को इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच ने इस मामले को सुना, जिसमें पीड़ित परिवार ने अपना दर्द अदालत के सामने बयां किया। दूसरी ओर आज से हाथरस के उस गांव में सीबीआई की टीम का एक्शन शुरू हो जाएगा, सीबीआई की जांच टीम आज घटना स्थल का दौरा कर सकती है, जहां से सबूत इकट्ठा करने की कोशिश होगी।

बता दें की हाथरस गैंगरेप कांड की जांच सीबीआई ने अपने हाथ में ले ली है, स्थानीय पुलिस स्टेशन से केस से जुड़े कागजात इकट्ठे किए जा चुके हैं, जबकि मंगलवार को सीबीआई की टीम क्राइम सीन का दौरा कर सकती है। फिलहाल अभी इस मामले में प्रदेश सरकार द्वारा गठित एसआईटी की पूछताछ भी चल रही है, जिसे दस दिन का एक्सटेंशन मिला था।

लेकिन वहीं सोमवार को हाई कोर्ट में हाथरस कांड की सुनवाई हुई, इस दौरान पीड़ित परिवार ने अपना बयान अदालत के सामने दर्ज कराया, जिसमें आरोप लगाया कि स्थानीय प्रशासन ने बिना उनकी सहमति के जल्दबाजी में पीड़िता का अंतिम संस्कार कर दिया। पीड़िता के परिवार की वकील सीमा कुशवाहा के मुताबिक, अदालत ने इस दौरान सरकार के प्रतिनिधियों से सख्त सवाल पूछे जिनका उनके पास कोई जवाब नहीं था।

हाई कोर्ट की ओर से जल्दबाजी में अंतिम संस्कार करने, अंतिम संस्कार करने के तरीके और परिवार से अनुमति ना लेने पर फटकार लगाई गई। परिवार की ओर से जो आरोप लगाए गए हैं, उनपर अब दो नवंबर से बहस शुरू होगी। दूसरी ओर 15 अक्टूबर को इस मसले पर सुप्रीम कोर्ट में भी सुनवाई होनी है, जहां यूपी सरकार की ओर से परिवार की सुरक्षा के बारे में जानकारी दी जाएगी।

लेकिन अब बड़ा सवाल ये है की योगी सरकार का आखिरी जवाब इसपर क्या आएगा। क्योंकि हाथरस कांड की शुरूआत से ही अभी तक लगातार योगी सरकार पर आरोपियों को बचाने और समर्थन देने के आरोप लगते आए है जिसको लेकर पीड़ित परिवार ने भी सिर्फ और सिर्फ कोर्ट पर भरोसा जताया है।

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुक, ट्विटर और यू-ट्यूब पर जुड़ सकते हैं.)


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

क्या नीतीश सरकार में हो रहा था बहजुनों और मुस्लिमों के साथ भेदभाव ?

एक रिपोर्ट के अनुसार 2011 की जनगणना के मुताबिक, बिहार की जनसंख्या 10.38 करोड़ थी। इसमें 82…