Home International Political सुशांत केस में बीेजेपी दफ्तर का क्या है मामल ?
Political - August 29, 2020

सुशांत केस में बीेजेपी दफ्तर का क्या है मामल ?

सचिन सावंत ने आरोप लगाया है कि एक नाबालिग के साथ यौन हिंसा के एक आरोपी को बीजेपी ने पीएम मोदी की जीवनी पर फिल्म बनाने को क्यों चुना और उसे तत्कालीन सीएम द्वारा इस पर समर्थन मिला.

सुशांत केस में कांग्रेस के बीजेपी पर आरोप’PM की फिल्म बनाने के लिए संदीप को क्यों चुना’संदीप सिंह से रही है सुशांत राजपूत की दोस्ती

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में कांग्रेस ने बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाया है. कांग्रेस ने कहा है कि बीजेपी ने यौन शोषण के आरोपी संदीप सिंह को पीएम नरेंद्र मोदी की जीवनी पर फिल्म बनाने को क्यों चुना? बता दें कि संदीप सिंह एक फिल्म निर्माता हैं. उन्होंने दावा किया था कि सुशांत की मौत के बाद उनके घर पहुंचने वाले पहले व्यक्तियों में से वो एक थे

महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने बीजेपी और संदीप सिंह के बीच रिश्तों का आरोप लगाया है. सचिन सावंत ने कहा है कि संदीप सिंह (जो कि मीडिया के मुताबिक लंदन भगने की फिराक में है) ने 1 दिसंबर 23 दिसंबर 2019 के बीच महाराष्ट्र बीजेपी के दफ्तर में 53 बार फोन किया है. संदीप सिंह किससे बात कर रहा था, बीजेपी में उसका हैंडलर कौन है?

इससे पहले सचिन सावंत ने पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस के साथ संदीप सिंह की तस्वीर भी जारी की थी.

सचिन सावंत ने कहा है कि 2018 में संदीप सिंह पर मॉरीशस में एक नाबालिग के साथ यौन हिंसा का आरोप है, इस केस की मौजूदा स्थिति क्या है? क्या मोदी सरकार उसे मदद कर रही है?

PM मोदी पर फिल्म बनाने को बीजेपी ने क्यों चुना

सचिन सावंत ने आरोप लगाया है कि एक नाबालिग के साथ यौन हिंसा के एक आरोपी को बीजेपी ने पीएम मोदी की जीवनी पर फिल्म बनाने को क्यों चुना और उसे तत्कालीन सीएम द्वारा इस पर समर्थन मिला. 

वाइब्रेंट गुजरात के लिए 177 करोड़ का समझौता

महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रवक्ता के मुताबिक पीएम मोदी की जिंदगी पर फिल्म बनाने के बाद संदीप सिंह की लेजेंड ग्लोबल स्टूडियो वो एक मात्र फिल्म कंपनी थी जिसने 177 करोड़ के MoU पर गुजरात सरकार के साथ हस्ताक्षर किया. ये समझौता वाइब्रेंट गुजरात समिट के लिए किया गया था. सचिन सावंत ने पूछा है कि इसमें सिर्फ संदीप सिंह की कंपनी को ही क्यों बुलाया गया. सचिन सावंत का सवाल है कि आखिर संदीप सिंह बीजेपी का दुलारा क्यों है?

बता दें कि संदीप सुशांत सिंह राजपूत और अंकिता लोखंडे के दोस्त माने जाते हैं. दोनों के अलग हो जाने के बाद संदीप सिंह अंकिता के साथ नजर आए लेकिन सुशांत के साथ नहीं दिखे. सुशांत की मौत के बाद उन्होंने बताया वो सुशांत के दोस्त थे. सुशांत के अंतिम संस्कार में वो सुशांत की बहन मीतू के साथ नजर आये थे

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुक, ट्विटर और यू-ट्यूब पर जुड़ सकते हैं.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

बाबरी विध्वंस केस: आडवाणी-जोशी-कल्याण को हो सकती है पांच साल की सजा

अयोध्या बाबरी विध्वंस मामले में बीजेपी के वयोवृद्ध नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी,…