Home Social Health कोरोना के बीच बड़ी तादाद में नर्स के इस्तीफा देने से मचा हड़कंप !
Health - Political - 2 weeks ago

कोरोना के बीच बड़ी तादाद में नर्स के इस्तीफा देने से मचा हड़कंप !

कोरोना महामारी के कहर से लगातार स्वास्थ्यकर्मियों के संक्रमित होने की खबर आना काफी भयावह है. जिसके डर से अब कोलकाता की नर्स ने नौकरी छोड़ दी है. जिसकी जानकारी कोलकाता के 17 प्राइवेट अस्पतालों ने ‘दी एसोसिएशन ऑफ हॉस्पिटल्स ऑफ ईस्टर्न इंडिया’ के मुख्य सचिव राजीव सिन्हा को पत्र लिखकर दी. मिली जानकारी के मुताबिक शुरुआत में 185 नर्से इस्तीफा देकर अपने घर लौट गई है.

दरअसल, कोरोना की बीमारी की चपेट में आने से नर्स इतनी ज्यादा हताश-परेशान हो गई कि वह नौकरी छोड़कर घर चली गई. शनिवार को कुल 169 नर्सें मणिपुर, त्रिपुरा, ओडिशा और झारखंड के लिए रवाना हो गईं. एएचआईई के अध्यक्ष प्रदीप लाल मेहता ने अपने पत्र में कहा कि वे क्यों छोड़कर जा रही हैं, इसका सही-सही कारण तो हमें नहीं पता लेकिन जो नर्सें अब भी यहां हैं उनका कहना है कि मणिपुर सरकार उन्हें घर वापसी के लिए लुभावने प्रस्ताव दे रही है. दूसरी ओर यह भी कयास लगाए जा रहे हैं कि कोरोना महामारी में संक्रमण के डर से नर्स अपने घरों के लिए जा रही हैं.

मणिपुर के मुख्यमंत्री नांगथोमबम बीरेन सिंह ने अपने फेसबुक पोस्ट पर उस दावे को खारिज कर दिया, जिसमें कहा गया था कि सीएम ने उन्हें वापस राज्य में आने के लिए कहा था. उन्होंने लिखा कि हम किसी को भी लौटने के लिए नहीं कह रहे हैं. हमें उन पर गर्व है कि वे कोलकाता, दिल्ली और चेन्नई में मरीजों की सेवा कर रही हैं. हमने उनसे पहले ही कहा था कि कोविड-19 के मरीजों का इलाज करने पर हम उन्हें मुआवजा और ईनाम देंगे. नर्सें और चिकित्सक जहां काम कर रहे हैं, वहां उन्हें ठीक नहीं लग रहा है, तो यह उनका फैसला है. मैं उन पर वहां बने रहने के लिए दबाव नहीं बना सकता. मणिपुर लौट चुकी एक नर्स ने बताया कि सुरक्षा संबंधी चिंता और उसके माता-पिता का दबाव नौकरी छोड़ने के दो मुख्य कारण हैं.

वहीं क्रिस्टीला नाम की नर्स ने कहा है कि हम अपनी नौकरी छोड़कर खुश नहीं हैं लेकिन काम के दौरान हमारे साथ भेदभाव किया जाता है. लोग नस्लीय टिप्पणी करते हैं यहां तक कि कभी-कभी हमारे ऊपर थूक दिया जाता है. अस्पतालों में पीपीई किट की कमी है. हम लोग जहां कहीं भी जाते हैं लोग सवाल करने लगते हैं.

बता दें कि इससे पहले भी कई डॉक्टर्स और स्वास्थ्यकर्मियों कि संक्रमित होने कि खबरे आ चुकी है. कोरोना के चलते कई डॉक्टर्स भी अपनी जान गंवा चुके है.वहीं उनके साथ बदसलूकी की खबरे भी आती रही है. जिसके बाद अब इस मामले ने तूल पकड़ लिया है. कोलकाता के 185 नर्सों के इस्तीफा देने के बाद अस्पतालों में हड़कंप मच गया है. हालांकि अब देखना ये होगा कि सरकार अब इस पर क्या कदम उठाती है और स्वास्थ्यकर्मियों के लिए क्या सुविधा मुहैया कराती है.

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुक, ट्विटर और यू-ट्यूब पर जुड़ सकते हैं.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

रेल मंत्रालय की बड़ी लापरवाही, 40 श्रमिक ट्रेनों के रुट बदले, क्या है इसके पीछे की साजिश ?

By_Mahendra Yadav देश में 40 ट्रेनों के रास्ता भटक कर सैकड़ों मील दूसरे प्रदेशों तक जाना ग…