घर चालू घडामोडी कोरोनाहून 24 तासात 507 मृत्यू, 6 रुग्णांची संख्या लाखांपर्यंत पोहोचली !

कोरोनाहून 24 तासात 507 मृत्यू, 6 रुग्णांची संख्या लाखांपर्यंत पोहोचली !

कोरोनाची दहशत कधी संपेल हे कोणालाच माहीत नाही, पण ज्या पद्धतीने कोरोना सतत कहर करत आहे. यामुळे खरोखरच मनात भीती निर्माण होत आहे. या एपिसोडमध्ये, देशातील कोरोना रुग्णांची संख्या 5 लाख 85 हजार को पार कर गया है। बुधवार को स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी अपडेट के मुताबिक, देशातील एकूण रुग्णांची संख्या 5 लाख 85 हजार 493 आहे, कोणत्या 17 हजार 400 लोकांचा मृत्यू झाला आहे. आतापर्यंत 3 लाख 47 हजार 979 लोक ठीक आहेत, जबकि एक्टिव केस की संख्या 2 लाख 20 हजार से अधिक है।

मागील 24 तासात 18 हजार 653 नवीन प्रकरणे नोंदवली गेली आहेत आणि 507 लोगों की मौत हो चुकी है। ICMR के आंकड़ों के मुताबिक, 30 जून तक देश में 88 लाख 26 हजार 585 सैंपल का टेस्ट किया जा चुका है। अकेले 30 जून को 2 लाख 17 हजार 931 टेस्ट किए गए थे।

जहां कोरोना सबसे ज्यादा अपना कहर बरपा रहा है वो है महाराष्ट्र। क्योंकि यहां कुल मरीजों का आंकड़ा एक लाख 74 हजार 761 हो गया है। इसमें 7 हजार 855 लोक मरण पावले आहेत, तर 90 हजार से अधिक लोग ठीक हो चुके हैं। एक्टिव केस की संख्या करीब 76 हजार है, तो वहीं दिल्ली में कुल मरीजों का आंकड़ा 87 हजार 360 आहे, कोणत्या 2742 लोगों की मौत हो चुकी है।

अगर दिल्ली के आंकड़ों पर नजर डाली जाए तो दिल्ली में अबतक 58 हजार से अधिक मरीज ठीक हो चुके हैं। राज्य में एक्टिव केस की संख्या 26 हजार 270 आहे. तिथेच, तमिलनाडु में कुल मरीजों की संख्या 90 हजार को पार कर गई है। यहां अब तक 1201 लोगों की मौत हो चुकी है और 50 हजारांहून अधिक रुग्ण बरे झाले आहेत. एक्टिव केस की संख्या करीब 39 हजार है।

तिथेच, उत्तर प्रदेश में कुल मरीजों की संख्या 23 हजार 492 आली आहे, कोणत्या 697 लोगों की मौत हो चुकी है। प्रदेश में एक्टिव केस की संख्या 6711 आहे, गुजरात में कुल मरीजों का आंकड़ा 32 हजार 557 आहे, कोणत्या 1846 लोक मरण पावले आहेत, एक्टिव केस की संख्या 7049 आहे.

लेकिन सरकार हर मुद्दे की तरह कोरोना पर काबू पाने में भी पूरी तरह फैल साबित हुई। लेकिन अगर आज सरकार ने समय पर हालात पर काबू पा लिया होता तो आज देश इस हालात में ना होता जिस हालात में आज ये देश है। लेकिन अब देखने वाली बात ये होगी की सरकार या कोरोना में से कौन सबसे पहले अपने घुटने टेकता है।

(आता राष्ट्रीय भारत बातम्या फेसबुक, ट्विटर आणि YouTube आपण कनेक्ट करू शकता.)

प्रतिक्रिया व्यक्त करा

आपला ई-मेल अड्रेस प्रकाशित केला जाणार नाही. आवश्यक फील्डस् * मार्क केले आहेत

हे देखील तपासा

तसाच दीप सिद्धू हा आरोपींनी शेतकरी मेळाव्यात हिंसा घडवून आणला ?

मंगळवारी शेतकरी संघटनांनी आयोजित केलेल्या ट्रॅक्टर रॅलीमुळे प्रजासत्ताक दिनी अचानक संघर्ष झाला…