घर चालू घडामोडी भाजप पुन्हा फिरला, ईडीची टीम दुसर्‍या कॉंग्रेसच्या घरी पाठवली !

भाजप पुन्हा फिरला, ईडीची टीम दुसर्‍या कॉंग्रेसच्या घरी पाठवली !

भाजप सत्तेवर येताच भाजपने खोटे आरोप करून विरोधी नेत्यांना तुरुंगात पाठवले., आणि इतर पक्षांना बदनाम करण्यास सुरुवात केली. आजम खान, चिदंबरम और अब कांग्रेस नेता अहमद पटेल का नाम भी इसमें जुड़ गया है। दराअसल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सोनिया गांधी के पूर्व राजनीतिक सचिव अहमद पटेल से शनिवार को ED की टीम ने स्टर्लिंग-बायोटेक मामले में 8 घंटे पूछताछ की।

ईडी की इस पूछताछ के बाद कांग्रेस सांसद अहमद पटेल ने मोदी सरकार पर निशाना साधा। अहमद पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह के दोस्त मेरे घर पर आए थे। मुझसे जो भी सवाल पूछा गया उसका मैंने जवाब दिया। आगे उन्होने कहा की सरकार अपनी नाकामियां छिपाने के लिए विपक्ष पर निशाना साध रही है। उन्होंने कहा कि मुझे अधिकारियों के प्रति दया आती है जिनका इस्तेमाल ध्यान भटकाने के लिए किया जा रहा है। ऐसे समय में जब चीन ने हमारी जमीन पर कब्जा कर लिया है और उस जमीन को वापस हासिल करने के बजाय सरकार विपक्ष के नेताओं के पीछे पड़ी है।

बता दें कि स्टर्लिंग-बायोटेक मामले को लेकर अहमद पटेल से मंगलवार को फिर पूछताछ होगी। अहमद पटेल ने कहा कि आज पूरा देश कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। हमारा हेल्थ सिस्टम फेल हो चुका है और सरकार विपक्ष पर निशाना साध रही है, यह सब चीन और कोरोना से निपटने में उनकी अक्षमता को छिपाने के लिए किया जा रहा है।

अगर मैंने कुछ गलत किया है तो कानून के तहत मेरे खिलाफ कार्रवाई हो, उन्होंने आगे कहा कि यदि आप विश्लेषण करें तो आपको पिछले कई वर्षों में एक स्पष्ट पैटर्न दिखाई देगा। हर बार जब राज्य सभा, लोकसभा, विधानसभा चुनाव या सरकार पर संकट आता है, तो एक व्यक्ति के निर्देश पर जांच एजेंसियां ​​सक्रिय हो जाती हैं।

गौरतलब है कि इस मामले में ईडी अहमद पटेल के बेटे फैसल और इरफान से पहले ही पूछताछ कर चुकी है। 14500 करोड़ रुपये के बैंक ऋण में धोखाधड़ी से जुड़े इस मामले में आरोपी नितिन संदेसरा, चेतन संदेसरा और दीप्ति संदेसरा फरार चल रहे हैं। लेकिन बड़ा सवा ये है की सरकार लोगों का ध्यान भटकाने और नेताओं को बदनाम करने के लिए किस हद भी जा सकती है।

(आता राष्ट्रीय भारत बातम्या फेसबुक, ट्विटर आणि YouTube आपण कनेक्ट करू शकता.)

प्रतिक्रिया व्यक्त करा

आपला ई-मेल अड्रेस प्रकाशित केला जाणार नाही. आवश्यक फील्डस् * मार्क केले आहेत

हे देखील तपासा

तसाच दीप सिद्धू हा आरोपींनी शेतकरी मेळाव्यात हिंसा घडवून आणला ?

मंगळवारी शेतकरी संघटनांनी आयोजित केलेल्या ट्रॅक्टर रॅलीमुळे प्रजासत्ताक दिनी अचानक संघर्ष झाला…