घर भाषा हिंदी कोरोनाचे भयानक रूप, 20 रुग्णांची संख्या लाखाहून अधिक आहे

कोरोनाचे भयानक रूप, 20 रुग्णांची संख्या लाखाहून अधिक आहे

कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है और सरकार अस्पताल औऱ दवाईयों जैसी सुविधाओं पर ध्यान देने की जगह मंदिर पर ध्यान देकर अपना फायदा देख रही है। भारत में कोरोना वायरस के कुल मामलों की संख्या 20 लाख को पार कर गई है। इसी मसले पर शुक्रवार सुबह कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा. राहुल गांधी ने ट्वीट में लिखा, ’20 लाख का आंकड़ा पार, गायब है मोदी सरकार

आपको बता दें कि राहुल गांधी ने 17 जुलाई को एक ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर इसी रफ्तार से कोरोना वायरस फैला तो 10 अगस्त तक 20 लाख से अधिक लोग संक्रमित होंगे। इस मसले पर सरकार को ठोस और नियोजित कदम उठाने चाहिए। राहुल ने जब ये ट्वीट किया था तब देश में 10 लाख कोरोना केस का आंकड़ा पार हुआ था। अब राहुल गांधी की बात सही साबित हुई, 8 अगस्त को ही कोरोना वायरस का आंकड़ा 10 लाख को पार कर गया है।

गौरतलब है कि देश में अब कोरोना वायरस के फैलने की रफ्तार काफी तेज हो गई है. पिछले कई दिनों में हर रोज 50 हजार से अधिक केस सामने आ रहे हैं। कोरोना वायरस के अपडेट देने वाली वेबसाइट covid19india.org के अनुसार, 24 घंटे में देश में 62 हजार से अधिक मामले सामने आए हैं। जबकि कुल आंकड़ों की संख्या 20.25 लाख पहुंच गई है. अबतक देश में इस महामारी के कारण 41 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

भारत हर रोज आने वाले आंकड़ों की संख्या में लगातार पहले और दूसरे स्थान पर बना हुआ है। अमेरिका, ब्राजील के साथ भारत में ही अब सबसे अधिक केस सामने आ रहे हैं। लॉकडाउन खुल जाने के बाद से ही स्थिति लगातार बिगड़ती हुई दिख रही है, ऐसे में सरकार के सामने दोहरी चुनौती है। तो वहीं दूसरी तरफ डॉक्टर भी सुविधा ना मिल पाने की वजह से खासी परेशान है।

अर्थव्यवस्था को बचाना और कोरोना को काबू में रखना, दोनों ही मोर्चों पर राहुल गांधी केंद्र सरकार को घेरते आए हैं। और घेरे भी क्यों ना सरकार ने करा ही क्या है लोगों के लिए और लोगों क बचाने के लिए। खैर अब देखने वाली बात ये होगी की सरकार का ये दोहरा रवैया कब तक जारी रहता है।

(आता राष्ट्रीय भारत बातम्या फेसबुक, ट्विटर आणि YouTube वर सामील होऊ शकतात.)

प्रतिक्रिया व्यक्त करा

आपला ई-मेल अड्रेस प्रकाशित केला जाणार नाही.

हे देखील तपासा

तसाच दीप सिद्धू हा आरोपींनी शेतकरी मेळाव्यात हिंसा घडवून आणला ?

मंगळवारी शेतकरी संघटनांनी आयोजित केलेल्या ट्रॅक्टर रॅलीमुळे प्रजासत्ताक दिनी अचानक संघर्ष झाला…