Home State Delhi-NCR राजस्थान में बीजेपी विधायक का विवादित बयान, कहा “गो-तस्करी करोगे तो यूंही मरोगे”
Delhi-NCR - Social - State - December 25, 2017

राजस्थान में बीजेपी विधायक का विवादित बयान, कहा “गो-तस्करी करोगे तो यूंही मरोगे”

By- Aqil Raza

राजस्थान के अलवर जिले के रामगढ़ से बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहूजा ने भड़काऊ बयान देकर माहोल को गर्मा दिया है। गो तस्करी के बढ़ते मामलों और गोरक्षा के नाम पर हमलों को लेकर विवादित बयान दिया है. विधायक आहूजा ने कहा है कि तस्करी करोगे, गो-कशी करोगे तो यूं ही मरोगे. आपको बता दें कि राजस्थान के अलवर में गोरक्षा के नाम पर ही उमर खान की हत्या कर दी थी. आहूजा अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहते हैं. उन्होंने पहले जेएनयू को बलात्कारियों का अड्डा बताया था और वहां हर रोज तीन हज़ार कंडोम मिलने की बात कही थी.

दरअसल शनिवार को पुलिस ने बैरिकेट लगाकर पशु ले जा रहे वाहन को रोकने की कोशिश की थी. जिसक बाद वहां के स्‍थानीय लोगों ने ट्रक पर हमला किया. ट्रक में सवार दो लोग भागने में कामयाब रहे जबकि एक जाकिर को उन्‍होंने पकड़ लिया और उसकी पिटाई की.

 

बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहूजा ने जाकिर की पिटाई की बात से इनकार किया है. उन्‍होंने कहा है कि ट्रक के पलटने के चलते वह घायल हुआ है. उन्‍होंने कहा कि अगर इस तरह से गाय की तस्‍करी करते रहे तो तुम्‍हारी हत्‍या कर दी जाएगी.

गौरतलब है कि इससे पहले ज्ञानदेव आहूजा ने जेएनयू को लेकर भी बयान दिया था. उन्‍होंने कहा था कि जेएनयू में रोजाना 3 हजार बीयर की बोतलें, 2 हजार शराब की बोतलें, 10 हजार सिगरेट के टुकड़े, 4 हजार बीड़ी, 50 हजार हड्डियों के टुकड़े, 2 हजार चिप्स के पैकेट, 3 हजार उपयोग किए गए कंडोम और 500 गर्भपात के इंजेक्शन मिलते हैं. 63 वर्षीय आहूजा ने कहा कि कंडोम हमारी बहनों और बेटियों के साथ ‘गलत काम’ के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं. अहुजा के इस बयान से जेएनयू में काफी विवाद फैला था।

लेकिन सवाल इस बात का है कि ऐसे में हमारा देश एक नाजुक दौर से गुजर रहा है, आए दिन गोरक्षा के नाम पर इंसानियत का कत्ल किया जा रहा है, और सबका साथ सबका विकास कहने वाली पार्टी के नेता की खुलेआम कानून को ताक पर रखकर हत्या करने की बात कहना कितनी वाजिब है? सवाल इस बात का भी है कि इस तरह के बयानों से हमारे समाज को आखिर किस दिशा में ले जाने की कोशिश की जा रही है। क्या हमारे देश का कानून इन विवादित बयानबाजी करने वाले नेताओं के लिए कोई माइने नहीं रखता ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

The Portrayal of Female Characters in Pa Ranjith’s Cinema

The notion that only women are the ones who face many problems and setbacks due to this ma…