घर सामाजिक आरोग्य या गोष्टी कोरोना टाळण्यासाठी डॉ. मनीषा बांगर यांच्या लक्षात ठेवा

या गोष्टी कोरोना टाळण्यासाठी डॉ. मनीषा बांगर यांच्या लक्षात ठेवा

कोरोना का कहर कब खत्म होगा ये कोई नहीं जानता लेकिन मरीजों का बढ़ता आंकड़ा ये बयां कर रहा है की सरकार कोरोना पर कंट्रोल करने में असफल हो चुकी है। बता दें की देश में कोरोना मरीजों की कुल संख्या करीब 9 लाखांवर पोहोचली आहे. 24 काही तासांत कोरोना देशात 28701 नवीन प्रकरणे नोंदवली गेली आहेत. तिथेच 500 लोक मरण पावले आहेत.

यासह, देशातील एकूण कोरोना रूग्णांचा आकडा 8,78,254 आले आहेत. यापैकी 3,01,609 सक्रिय केस आणि 5,53,471 मरीज ठीक हो चुके हैं। देश में कोरोना से होने वाली कुल मौत का आंकड़ा 23,174 हो गया है।

वहीं कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच रूस के सेचेनोव विश्वविद्यालय ने वायरस की वैक्सीन के सफल परीक्षण का दावा किया है। मॉस्को स्थित सेचेनोव विश्वविद्यालय के रिसर्चर्स ने दावा किया कि इंसानी समूह पर भी यह टीका सफल रहा है।

लेकिन कई जगह और कई लोग ऐसे भी है जो कोरोना को लेकर जागरूक नहीं है। जिसको लेकर गेस्ट्रोइंटेरोलॉजिस्ट और लिवर ट्रांसप्लांट स्पेशलिस्ट राजनितिक विश्लेषक एवं पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बामसेफ नेत्री डॉ मनीषा बांगर ने वीडियो इंटरव्यू के जरिए लोगों को जागरूक किया।

कोरोना से बचाव

कोरोना से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का सबसे ज्यादा ध्यान रखना होगा। लोगों को किसी पार्टी, शादी में जाने से खुद को रोकना होगा। साथ ही साथ सबसे ज्यादा मास्क पहने और हर 20 मिनट में हात धोते रहना होगा। अगर ऐसा नहीं किया गया तो वायरस बढ़ने का खतरा सबसे ज्यादा है क्योंकि वायरस सबसे ज्यादा छुने से और सोशल डिस्टेंसिंग ना करने से फैल रहा है।

कोरोना से संक्रमित होने पर कैस बचाव करें

संक्रामित होने पर जल्द से जल्द डॉक्टर को दिखाए और खुद को आईसोलेट कर लें। औऱ दवाई जो ज्यादा जरूरी है उसका सेवन करते रहे, किसी भी कीमत पर उस कमरें या फिर उस वार्ड से बाहर ना निकलें जिसमें आप है। साथ ही साथ इस बात का भी ध्यान रखें की अपने परिवार के सभी सदस्यों को कमरे में आने से साफ मना कर दें। क्योंकि ऐसा ना करने पर आप के परिवार के भी संक्रमित होने का खतरा है।

टेस्टिंग और जागरूकता की कमी

लोगों में जागरूकता की कमी की वजह से कोरोना सबसे ज्यादा फैल रहा है। और फिर टेस्टिंग भी सरकार की तरफ से उस तरह से नहीं हो रही जिस तरीके के ये होने चाहिए।अगर जागरूक नहीं किया गया तो हालात आगे चलकर और ज्यादा बिगड़ सकते है।

लेकिन अब सवाल ये है की जिस तरीके से कोरोना लगातार अपने पांव पसार रहा है वो वाकई में लोगों के जगन में खौफ पैदा कर रहा है। लेकिन सरकार तो पहले ही हाथ खड़े कर चुकी है अब आपकी सुरक्षा आपके हाथ में है। तो नेशनल इंडिया न्यूज आपसे अपील करता है की अपने घर में रहे और जरूरी काम होने पर ही घर से बाहर निकले।

(आता राष्ट्रीय भारत बातम्याफेसबुकट्विटर आणिYouTube आपण कनेक्ट करू शकता.)

प्रतिक्रिया व्यक्त करा

आपला ई-मेल अड्रेस प्रकाशित केला जाणार नाही.

हे देखील तपासा

तसाच दीप सिद्धू हा आरोपींनी शेतकरी मेळाव्यात हिंसा घडवून आणला ?

मंगळवारी शेतकरी संघटनांनी आयोजित केलेल्या ट्रॅक्टर रॅलीमुळे प्रजासत्ताक दिनी अचानक संघर्ष झाला…