घर भाषा हिंदी बंगालमधील ममता बॅनर्जी कारवाईत, ओपन पोलसमोर आले, जाणून घ्या कोणाचा चेहरा भारी आहे!

बंगालमधील ममता बॅनर्जी कारवाईत, ओपन पोलसमोर आले, जाणून घ्या कोणाचा चेहरा भारी आहे!

पश्चिम बंगालमध्ये आगामी विधानसभा निवडणुका (पश्चिम बंगाल निवडणूक 2021) तारखा जाहीर केल्या आहेत. 294 जागांवर होणाऱ्या विधानसभा निवडणुकीचे निकाल 2 मे मध्ये येत आहे. 2 मई आने में अभी वक्त है लेकिन इन चुनाव के पहले ओपिनियन पोल आ गए हैं. ओपिनियन पोल आ गए हैं. एबीपी न्यूज-सी वोटर (ABP News-C Voter Opinion poll) ओपिनियन पोल के नतीजे में फिर से तृणमूल कांग्रेस (TMC) की सरकार बनाने के कयास लगाए गए हैं. भारतीय जनता पार्टी, कॉंग्रेस, समेत कई अन्य पार्टियों के लिए फिलहाल कैसी संभावना बनती दिख रही है आइये जानते हैं इस रिपोर्ट में ….

एबीपी न्यूज-सी वोटर द्वारा कराये गये ओपिनियन पोल में के नतीजों पर यकीन करे तो बंगाल की सत्ता में एक बार फिर ममता बनर्जी आ रही हैं. ओपिनियन पोल के नतीजे में फिर से तृणमूल कांग्रेस (TMC) की सरकार बनाने के कयास लगाए गए हैं. ओपिनियन पोल के मुताबिक टीएमसी को 148-164 सीटें मिल सकती हैं. वहीं पिछले विधानसभा चुनाव में महज 3 सीटें पाने वाली भारतीय जनता पार्टी इस बार 100 सीटों के आंकड़े तक पहुंचती दिख रही है. भाजप (भाजप) के खाते में 92 पासून 108 सीटें जाने का अनुमान लगाया गया है. वहीं कांग्रेस और लेफ्ट के खाते में 31-39 सीटें आ सकती हैं.

पिछले चार महीनों के दौरान बंगाल की राजनीतिक तस्वीर तेजी से बदली है. ममता बनर्जी को बड़ा झटका लगा है. तृणमूल कांग्रेस के तीन मंत्री, 14 विधायक व दो सांसदों ने पार्टी छोड़ दी है. तिथेच, कई मंत्री अब भी पार्टी छोड़ने की धमकी दे रहे हैं. जिन मंत्रियों ने पार्टी छोड़ी है, उनमें सबसे बड़ा नाम परिवहन मंत्री शुभेंदु अधिकारी और राजीव बनर्जी है. दोनों ही नेता तृणमूल कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में शामिल हो गये हैं. इसके अलावा कोलकाता के पूर्व मेयर व विधायक शोभन चटर्जी, सब्यसाची दत्ता, सुनील सिंह, शुभ्रांशु राय, वैशाली डालमिया, प्रबीर घोषाल, हावड़ा के पूर्व मेयर रथिन चक्रवर्ती और सांसद सुनील मंडल जैसे बड़े नाम हैं.

वहीं बंगाल की लड़ाई अब बुआ बनाम बेटी पर आ गयी है. बंगाल भाजपा ने नौ महिला नेताओं के पोस्टर जारी कर कहा है कि बंगाल को बुआ नहीं, बेटी चाहिए. पोस्टर में रूपा गांगुली, देबोश्री चौधरी, लॉकेट चटर्जी, भारती घोष, अग्निमित्र पॉल शामिल हैं. यापूर्वी, टीएमसी ने ‘बंगाल को चाहिए अपनी बेटी’ का नारा दिया था.

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव की तारीखों के एलान के साथ तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी एक्शन में आ गई है. ममता बनर्जी ने बीजेपी को रोकने के लिए खास प्लान बनाया है. बताया जा रहा है कि चुनाव से संबंधित सभी तरहों की मंत्रणा और एक्शन के लिए एक इलेक्शन कमिटी बनाई गई है, जिसमें डेरेक ओ ब्रायन, अभिषेक बनर्जी सहित 11 लोगों को शमिल किया गया है.

(आता राष्ट्रीय भारत बातम्या फेसबुक, ट्विटर आणि YouTube आपण कनेक्ट करू शकता.)

प्रतिक्रिया व्यक्त करा

आपला ई-मेल अड्रेस प्रकाशित केला जाणार नाही.

हे देखील तपासा

रद्दी म्हणून घरात चोरी करायची,पोलिसांनी पकडले

दिल्ली:- Twitter आणि YouTube वर कनेक्ट व्हा. Twitter आणि YouTube वर कनेक्ट व्हा …