Home State Delhi-NCR कोरोना का बरपा कहर, कर्नाटक के बाद अब दिल्ली में मौत
Delhi-NCR - Hindi - March 14, 2020

कोरोना का बरपा कहर, कर्नाटक के बाद अब दिल्ली में मौत

चीन में कोरोना वायरस का कहर बरपने के बाद अब भारत में भी इसकी शुरुआत हो चुकी है. भारत में कोरोना वायरस से कुल 2 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके साथ ही दिल्ली में पहली मौत की खबर सामने आई है. एक 68 साल की बुजुर्ग महिला को कोरोना कोविड 19 से संक्रमित पाया गया.

दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में महिला की मौत कोरोना वायरस और बाकी स्वास्थ्य संबंधित बीमारी से हुई है. केंद्र सरकार की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया है कि कोरोना वारस के साथ-साथ 68 साल की ये महिला पहले से डायबीटीज़ और हाइपरटेन्शन जैसी स्वास्थ्य समस्याओं से जूझ रही थीं. जांच के दौरान रिपोर्ट आने के बाद मालूम हुआ कि महिला कोरोना वायरस से संक्रमित है. जिसके बाद 13 मार्च को उनकी मौत हो गई.

इसके साथ ही केंद्र सरकार ने बताया कि उनके बेटे भी 5 फरवरी से 22 फरवरी तक विदेश की यात्रा स्विट़्ज़रलैंड और इटली से होकर आए. लौटने के पहले दिन तो उन्हें कोई बीमारी नही थी लेकिन एक दिन बाद उन्हें तेज बुखार और खांसी हुई. जिसके बाद उन्हें RML अस्पताल में भर्ती कराया गया. अब उनके संपर्क में आए सभी लोगों को कड़ी निगरानी में रखा जा रहा है.

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के चलते गुरुवार को भारत में पहली मौत का मामला सामने आया था. जिसके बाद कर्नाटक के कलबुर्गी में 76 साल के एक बजुर्ग की मौत हो गई थी जो कोरोना वायरस से पीड़ित था. मृतक की उम्र 76 साल बताई गई थी. मरीज सऊदी अरब से लौटा था. 29 फरवरी को वह हैदराबाद पहुंचा और सीधे कर्नाटक के कलबुर्गी गया था. बाद में उसे सांस लेने में परेशानी, खांसी और निमोनिया की शिकायत हुई. जब वह भारत लौटा था तब हैदराबाद एयरपोर्ट पर उसकी स्‍क्रीनिंग भी हुई थी. उस वक्‍त उसमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं दिखे थे.

बता दें कि कोरोना वायरस के कारण आवाजाही,शिक्षा,स्वास्थ्य सहित कई चीजे प्रभावित हुई है. भारतीय रेलवे ने कहा है कि भारत और बांग्लादेश के बीच चलने वाली यात्री रेल सेवा को एक महीने तक के लिए रोका जा रहा है. ये रोक 15 मार्च से 15 अप्रैल तक रहेगी और इसका असर दोनों देशों के बीच चलने वाले मैत्री एक्सप्रेस और बंधन एक्सप्रेस पर पड़ेगा. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक दोनों देशों के बीच यात्री बस सेवा भी 15 मार्च से 15 अप्रैल तक बंद रहेगी.

बतौर एहतियातन महाराष्ट्र और जम्मू में मॉल, स्विमिंग पूल और जिम को बंद करने के आदेश दे दिए गए है. इसके साथ ही देश के कई राज्‍यों में स्‍कूलों को बंद करने का ऐलान कर दिया गया है. इसमें राजधानी दिल्‍ली, उत्‍तराखंड छत्‍तीसगढ़ ओडिशा, हरियाणा, बिहार, उत्‍तर प्रदेश और मणिपुर ने गुरुवार को राज्‍यों में तमाम स्‍कूलों और कॉलेजों को एहतियातन बंद करने का ऐलान कर दिया गया. देश भर में वायरस के बढ़ते क्रम को देखते हुए यह फैसला लिया गया है.

लिहाजा केंद्र सरकार इस मामले पर कितनी जागृत है वह तो इसी से पता लगाया जा सकता है कि कोरोना वायरस से लड़ने के इंतजाम करने की वजह वह NRCऔर NPR पर अटके हुए है. केंद्र सरकार को देश के नागरिकों की सेहत से ज्यादा अपने बेतुके कानून कि ज्यादा चिंता है कि उसे लागू कितनी जल्दी किया जा सके. अब देखना यह होगा कि चीन की तरह भारत की स्थिती भी कोरोना के कारण ऐसे ही बिगड़ती जाती है या सरकार अपने बेतुके कानून को छोड़ इसे रोकने के लिए कोई सख्त कदम उठाती है.

(अब आप नेशनल इंडिया न्यूज़ के साथ फेसबुक, ट्विटरऔर यू-ट्यूबपर जुड़ सकते हैं.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

The Rampant Cases of Untouchability and Caste Discrimination

The murder of a child belonging to the scheduled caste community in Saraswati Vidya Mandir…